दिमाग का इलाज कराएं ममता दीदी: त्रिपुरा सीएम

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब एक बार फिर से विवादित बयान देकर चर्चा में हैं। उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री पर हमला बोलते हुए उन्हें अस्पताल में दिमाग की जांच कराने की सलाह दी है। उनका यह बयान ममता बनर्जी के उस बयान के एक दिन बाद आया है, जिसमें ममता बनर्जी ने भाजपा की त्रिपुरा में जीत को नगरपालिका चुनावों में जीत जैसा बताया था।

मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने कहा कि दीदी को “अस्पताल में अपने दिमाग की जांच करनी चाहिए।” इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रमुख को “मानसिक शांति” के लिए मंदिरों का दौरा करना चाहिए। बिप्लब ने यहां संवाददाताओं से कहा, “ममता दीदी को मंदिर जाना चाहिए और फिर अस्पताल में उसकी मस्तिष्क की जांच करनी चाहिए।”

बिप्लब कुमार देब ने कहा कि मामता दीदी के इस बयान से प्रतीत होता है कि वह निराश है और उन्हें हमसे जलन हो रही है। संविधान सभी राज्यों के साथ एक समान बर्ताव करता है, भले ही कुछ राज्य आकार में बड़े हों। उन्होंने आगे कहा कि, अगर मैं छह फीट तीन इंच का हूं और कोई पांच फीट का ही है तो क्या वह इंसान नहीं है।  ममता बनर्जी को पहले मंदिर जाना चाहिए, फिर किसी अच्छे अस्पताल में दिमाग की जांच करानी चाहिए। बता दें। इससे पहले मंगलवार को एक बंगाली न्यूज से बातचीत में ममता बनर्जी ने कहा था कि वह त्रिपुरा में जीत का भाजपा को श्रेय नहीं देंगी।

इतने रुपये तक पहुंच सकती है पेट्रोल कीमतें, चुकाने होंगे इतने ज्यादा रुपए

दूसरी तरफ, त्रिणमूल के वरिष्ठ नेता पार्था चटर्जी ने बिप्लब कुमार देब के बयान को पब्लिसिटी स्टंट करार दिया है। उन्होंने कहा कि कोई भी पब्लिसिटी के लिए कुछ भी कह देता है। अगर आप ममता बनर्जी पर हमला करते हैं तो अखबारों के पहले पन्ने पर जगह मिलती है, न्यूज बनती है। गौरतलब है कि त्रिपुरा में जीत के बाद भाजपा पदाधिकारियों ने कहा था कि त्रिपुरा की ही तरह पश्चिम बंगाल के लोगों को भी बदलाव लाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लापता जवान की निर्ममता से हत्या, शव के साथ बर्बरता, आॅख भी निकाली

दो दिन पहले बार्डर की सफाई दौरान पाकिस्तानी