कुछ ऐसे बेटी के पेट दर्द ने खिसका दी सबके पैरों तले जमीन, खुला ये बड़ा राज़

- in अपराध

लुधियाना। मौसी के बच्चे नहीं थे तो बहन की 17 वर्षीय नाबालिग बेटी उनके घर रहने लगी। इसी दौरान अचानक एक दिन नाबालिग लड़की के पेट में दर्द होने लगा। लड़की की मां उसे अस्पताल ले गई तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। डॉक्टर ने बताया कि उनकी बेटी गर्भवती है। बाद में लड़की ने बताया कि उसका मौसा अक्सर उससे दुष्कर्म करता है। थाना दुगरी पुलिस ने पीड़िता की मां के बयान पर आरोपित जतिंदर कुमार (44) के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कर लिया।कुछ ऐसे बेटी के पेट दर्द ने खिसका दी सबके पैरों तले जमीन, खुला ये बड़ा राज़

शिकायतकर्ता के मुताबिक उसकी बड़ी बहन का कोई बच्चा नहीं है। 2018 में उसकी बहन के कहने पर उन्होंने अपनी बेटी को उसके घर भेज दिया। इस दौरान वो अपनी बेटी के साथ लगातार बात भी करती रहती थी। 7 जुलाई को वो अपनी बेटी को मिलने के लिए गई।

बेटी ने उन्हें बताया कि उसके पेट में दर्द हो रहा है। पहले उन्हें लगा कि शायद कुछ खा लेने से ऐसा हुआ है, लेकिन फिर भी वो बेटी को लेकर डॉक्टर के पास चेकअप के लिए चली गई। जहां डॉक्टर ने उसे बताया कि उनकी बेटी डेढ़ महीने की गर्भवती है। यह सुनते ही उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई।

उन्होंने बेटी के साथ बात की तो उसने बताया कि उसके मौसा अक्सर उसके साथ दुष्कर्म करता था। वह अक्सर शराब पीकर घर आता था। पुलिस का कहना है कि आरोपित को गिरफ्तार करने के लिए छापामारी की जा रही है। उसे जल्द ही काबू कर लिया जाएगा।

नशा खिलाकर दुष्कर्म करता रहा आरोपित

उधर, बठिंडा के साईं नगर में युवती ने उसके घर के पास रहने वाले एक युवक और उसके परिवार पर मारपीट करने का आरोप लगाया है। युवती ने आरोप लगाया कि उक्त युवक ने शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया। मामले की जांच वर्धमान पुलिस कर रही है।

युवती ने बताया कि उसकी गली में रहने वाले एक युवक के साथ उसके पांच साल पहले प्रेम संबंध बन गए थे। वह उक्त युवक से शादी करना चाहती थी लेकिन उसके परिवार के लोग इंटरकास्ट होने के कारण इसका विरोध करते थे। उसने किसी तरह अपने परिवार के लोगों को मना लिया। कुछ दिन पहले उक्त युवक और उसके परिवार ने कहा कि वह उसकी शादी करवा देंगे।

पीड़ित ने बताया कि वह 15 दिन से आरोपित के घर में रह रही थी। उक्त युवक उसे नशा खिलाकर दुष्कर्म करता था। रविवार रात उक्त युवक और उसके परिवार से तब उसने शादी की बात की तो आरोपितों ने उसे पीटना शुरू कर दिया। आधी रात को उसे मारपीट करने के बाद उसका गला दबा दिया। वह किसी तरह आरोपितों के चंगुल से बचकर अपने घर पहुंची और परिवार को सारी बात बताई तो उसके परिवार के लोगों ने सरकारी अस्पताल में दाखिल करवाया। वर्धमान चौकी इंचार्ज गणोशवर शर्मा ने कहा कि उक्त लड़की की ओर से शिकायत भी आई थी। पता चला है कि वह अस्पताल में दाखिल है। पुलिस उसके बयानों के आधार पर कार्रवाई करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ग्रह क्लेश के चलते महिला ने बच्चे को साथ लेकर लगाई फांसी, महिला की मौत, बच्चे को हालात नाजुक।

अलीगढ़ के सासनी गेट थाना क्षेत्र के मोहल्ला