सिपाही नहीं लाया दूध तो ASP ने लिखाई रपट

- in अपराध

यूपी के मथुरा जिले में एक एडिशनल एसपी ने अपने सिपाही को दूध लाने के लिए कहा था. लेकिन सिपाही ने ना फरमानी की. साहब का पारा चढ़ गया. एडिशनल एसपी सीधे थाने पहुंचे और उस सिपाही के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी. लेकिन सिपाही भी बहुत चालाक था, उसने एएसपी के साथ फोन पर हुई बातचीत का एक ऑडियो वायरल कर दिया और एएसपी साहब को लेने के देने पड़ गए.

हुआ यूं कि मथुरा एसपी क्राइम राकेश सिंह सोनकर ने कांस्टेबल पुष्पेंद्र सिंह को फोन पर दूध लाने का हुक्म दिया था. मगर सिपाही ने हुक्म नहीं माना. एएसपी सोनकर को ये बात नागवार गुजरी. उन्होंने थाने जाकर पुष्पेंद्र सिंह के खिलाफ गैर हाजिर रहने की रिपोर्ट दर्ज करा दी.

मगर सिपाही पुष्पेंद्र सिंह उनसे भी चालक निकला, नाराज एसपी साहब की बातचीत और दूध लाने का फरमान उसने अपने फ़ोन में रिकॉर्ड कर रखा था. जैसे ही सिपाही को पता चला कि उसके खिलाफ छोटे कप्तान ने रिपोर्ट लिखाई है, तो उसने बातचीत का ऑडियो वायरल कर दिया, फिर क्या था छोटे कप्तान बैकफुट पर आ गए और उन्होंने थाने में दर्ज अपनी रिपोर्ट वापस ले ली.

एसपी क्राइम राकेश सिंह सोनकर और कॉन्स्टेबल पुष्पेंद्र सिंह की बातचीत का ऑडियो वायरल होने से विभाग में हड़कंप मच गया. सरकार की जगह अपनी ड्यूटी कराने वाले एएसपी को सिपाही के खिलाफ रपट लिखाना भारी पड़ गया.

मासूम बच्ची से 73 साल के बुजुर्ग ने की गन्दी बात, गिरफ्तार

बताया जा रहा है कि घर का काम कराने से सिपाही मानसिक तनाव में था. ऑडियो वायरल होने के बाद एसपी क्राइम राकेश सिंह ने अपनी सफाई में कहा कि मैंने उसे दूध लाने के लिए बोल था और समय पर आने को कहा था. यह सोशल मीडिया पर एक आधिकरी को बदनाम करने की कोशिश है.

हालांकि ऑडियो वायरल करने वाला पीड़ित सिपाही पुष्पेंद्र सिंह अब कैमरे के सामने आने को तैयार नहीं है, लेकिन इस मामले ने पुलिस महकमे में हंगामा ज़रूर खड़ा कर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

देवर को भाभी से संबंध बनाना पड़ा महंगा, भाभी ने काट लिया….अंग

दुनियाभर से ना जाने कितने ही अपराध की