पाक हाईकोर्ट जज का बड़ा खुलासा : कहा- ISI पक्ष में फैसले के लिए न्यायपालिका पर बना रही है दबाव

पाकिस्तान हाईकोर्ट जज ने शनिवार को देश की शक्तिशाली खुफिया एजेंसी आईएसआई पर विभिन्न मामलों में अपने पक्ष में फैसले के लिए मुख्य न्यायाधीश और अन्य जजों पर दबाव बनाने का आरोप लगाया है। इस्लामाबाद हाईकोर्ट के जज शौकत सिद्दीकी ने कहा कि यहां तक कि आईएसआई ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के मामले में भी मुख्य न्यायाधीश और अन्य जजों पर दबाव बनाया था। 

न्यायाधीश शौकत अजीज ने यह बात शनिवार को रावलपिंडी बार एसोसिएशन में कहीं। सिद्दकी ने खुले तौर पर कहा कि आईएसआई न्यायिक प्रणाली और मीडिया पर नियंत्रण रख रही है। उन्होंने कहा कि आज के दिन न्यायिक प्रणाली और मीडिया बंदूकवाला यानी सेना के नियंत्रण में है। न्यायपालिका स्वतंत्र नहीं है। यहां तक कि मीडिया को भी सेना से निर्देश मिल रहे हैं। मीडिया सच नहीं बयां कर रही है। वह भी सेना के दबाव में है और उनके अपने हित हैं। 

विभिन्न मामलों में आईएसआई ने अपने पक्ष में फैसले के लिए अपनी पसंदीदा पीठ का गठन करवाया है। आईएसआई ने मुख्य न्यायधीश से कहा कि 25 जुलाई चुनाव से पहले नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाजा जेल से बाहर नहीं आना चाहिए। उन्होंने नवाज शरीफ और मरियम के मामले में सुनवाई पीठ में मुझे नहीं शामिल करने की भी हिदायत दी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

भारत ने रोहिंग्याओं के लिए बांग्लादेश को राहत सामग्री प्रदान की

भारत ने हिंसा के कारण म्यामांर छोड़कर बांग्लादेश में शरणार्थी