अमेरिकी दूतावास आज शिफ्ट होगा यरुशलम, नेतन्याहू ने कही ये बात…

यरुशलम। इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू एक बार फिर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की तारीफ करते नजर आए हैं। यरुशलम में अमेरिकी दूतावास के उद्घाटन के एक दिन पहले (13 मई) नेतन्याहू ने देश की राजधानी के रूप में यरुशलम को चुनने के लिए ट्रंप के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की। ट्विटर पर उन्होंने लिखा, ‘राष्ट्रपति ट्रंप इतिहास रच रहे हैं। हम यरुशलम को इजरायल की राजधानी के रूप में स्वीकारने और अमेरिकी दूतावास को यहां स्थानांतरित करने के उनके साहसी फैसले के आभारी हैं।’अमेरिकी दूतावास आज शिफ्ट होगा यरुशलम, नेतन्याहू ने कही ये बात...

बता दें कि दूतावास का उद्घाटन करने के लिए राज्य के उप-सचिव जॉन सुलिवन 250 सदस्यीय मजबूत प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे हैं, जिसमें ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप और उनके दामाद जेरेड कुश्नर भी शामिल हैं। इसी सिलसिले में रविवार को यहां पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति की बेटी इवांका और दामाद जेरेड कुश्नर का स्वागत किया गया।

रिपोर्ट के अनुसार, कुश्नर को इजरायल और फिलिस्तीन के बीच शांति वार्ता बहाल करने का काम सौंपा गया था। दरअसल, पिछले साल दिसंबर में यरुशलम को इजरायल की राजधानी के रूप में स्वीकारने के राष्ट्रपति ट्रंप के विवादास्पद फैसले के बाद दोनों देशों के बीच विवाद बढ़ गया था। गौरतलब है कि कई यूरोपीय देशों ने अमेरिकी दूतावास को राजधानी तेलअवीव से यरुशलम स्थानांतरित करने के ट्रंप के निर्णय की आलोचना की थी। फलस्तीन ने भी इसका भारी विरोध किया था। लेकिन ट्रंप अपने फैसले पर अड़े रहे।

चीन का यह पहला स्वदेशी विमानवाहक युद्धपोत समुद्र में उतरा, हैं ये खासियत

आज यरुशलम शिफ्ट होगा अमेरिकी दूतावास

आज यरुशलम में मौजूदा अमेरिकी वाणिज्य दूतावास के भीतर एक छोटा-सा अंतरिम दूतावास खुल जाएगा, जबकि बाद में एक बड़ी जगह देखी जाएगी जब बाकी का दूतावास तेल अवीव से हटेगा। उम्मीद की जा रही है कि राष्ट्रपति ट्रंप वीडियो लिंक के जरिए इस समारोह में उपस्थित लोगों को संबोधित करेंगे। उल्लेखनीय है कि 1967 में हुए इजरायल-अरब युद्ध में इजरायल ने पूर्वी यरुशलम पर कब्जा कर लिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

सेना के इशारे पर काम करती है पाकिस्‍तान सरकार : पूर्व PM अब्‍बासी

इस्‍लामाबाद : पाकिस्‍तान से पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्‍बासी ने वहां की