टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच 3 टी-20 मैचों की सीरीज का पहला मैच मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में खेला जायेगा. इस मुकाबले के विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम पूरी तरह से तैयार है. वहीं ऑस्ट्रेलिया को वनडे मैचों में 5-0 से हराने के बाद इंग्लैंड काफी उत्साहित है. कप्तान इयान मोर्गन एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपने इरादे साफ कर दिए. उन्होंने कहा कि हमने टीम इंडिया को रोकने का प्लान तैयार कर लिया है. यह कोहली के लिए काफी अहम होगा. इसलिए वो प्लेइंग इलेवन काफी सोच समझ के चुनेंगे. इस मुकाबले के लिए भारत की टीम में एक सरप्राइजिंग पैकेज शामिल हो सकता है.

कोहली के लिए इस बार इंग्लैंड दौरा अग्नि परीक्षा से कम नहीं होगा, क्यों कि टीम इंडिया एशिया में तो अच्छा प्रदर्शन करती है. लेकिन एशिया से बाहर जाते ही टीम के प्रदर्शन पर बड़ा फर्क नजर आता है. टीम इंडिया के लिए रोहित शर्मा और शिखर धवन ओपनिंग कर सकते हैं, क्यों ये दोनों बल्लेबाज फोर्म में चल रहे हैं. धवन और रोहित ने हाल ही में खत्म हुए आयरलैंड दौरे पर भी शानदार प्रदर्शन किया था. इस दौरान रोहित ने पहले मुकाबले में 97 रन की बेहतरीन पारी खेली. सुरेश रैना और महेन्द्र सिंह धोनी निश्चित रूप से प्लेइंग इलेवन में शामिल होंगे. रैना और धोनी के पास इंग्लैंड में खेलने का अनुभव है. वहीं दोनों बल्लेबाज फोर्म में भी चल रहे हैं.

मध्यक्रम में मनीष पांडे या दिनेश कार्तिक में से किसी एक को शामिल किया जाएगा. हालांकि संभवत: यहां मनीष को मौका मिलेगा. वहीं हार्दिक पांड्या बतौर ऑलराउंडर टीम के अहम हिस्सा होंगे. गेंदबाजी की बात करें तो जसप्रीत बुमराह का चोटिल होना टीम इंडिया के लिए बड़ा झटका है. हालांकि उनकी गैर मौजूदगी में सिद्धार्थ कौल को मिल सकता है. कौल ने आयरलैंड के खिलाफ खतरानाक गेंदबाजी की थी. वो भारत के सरप्राइज पैकेज के रूप में होंगे. कौल की उमेश यादव भी विकल्प हो सकते हैं. इसके अलावा तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार निश्चित रूप से प्लेइंग इलेवन में शामिल होंगे. स्पिन विभाग में युजवेन्द्र चहल और कुलदीप यादव को मौका मिलेगा.

महिला क्रिकेट कप्‍तान हरमनप्रीत कौर का हुआ बड़ा खुलासा, हाथ से जा सकता है ये बड़ा पद

अगर इंग्लैंड के प्लेइंग इलेवन की बात करें तो कप्तान इयान मोर्गन संभवत: उन्हीं खिलाड़ियों को शामिल करेंगे जिन्होंने एडबेस्टन में पिछले हफ्ते ऑस्ट्रेलिया को हराया था. टीम के दिग्गज ऑलराउंडर खिलाड़ी बेन स्टोक्स फिट न होने की वजह से प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं होंगे. ओपनिंग की बात करें तो जेसन रॉय और जोस बटलर अच्छे विकल्प हैं. इसके बाद एलेक्स हेल्स और जो रूट को भी शामिल किया जा सकता है.

ऑलराउंडर खिलाड़ी मोईन अली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया था. लिहाजा प्लेइंग इलेवन में इनका स्थान भी निश्चित होगा. जोनी बेयरस्टो भी खेल सकते हैं. गेंदबाजी की बात करें तो आदिल रशीद, क्रिस जोर्डन, डेविड विले और लियाम प्लंकेट को मौका मिल सकता है.