गोल्ड जीत स्वदेश लौटे सुशील कुमार, सीधे रामदेव से मिलने पहुंचे

- in खेल

कॉमनवेल्थ खेलों में गोल्ड मेडल जीतकर स्वदेश लौटे पहलवान सुशील कुमार ने आते ही योगगुरु बाबा रामदेव से आशीर्वाद लिया है. सुशील ने पुरुष फ्री स्टाइल 74 किलोग्राम में भारत को गोल्ड दिलाया था. कॉमनवेल्थ खेलों में ये सुशील का तीसरा गोल्ड मेडल है, इससे पहले उन्होंने 2010 दिल्ली और 2014 ग्लास्गो कॉमनवेल्थ में गोल्ड मेडल जीते थे.सोना जीत स्वदेश लौटे सुशील कुमार, सीधे रामदेव से मिलने पहुंचे

रामदेव ने सुशील से मुलाकात के बाद कहा कि हम सभी को सुशील पर गर्व है. उन्होंने कहा कि पहलवान ने देश का नाम रोशन किया है साथ ही रामदेव ने युवाओं को इनसे प्रेरणा लेने की नसीहत भी दी. रामदेव ने कहा कि अगर सुशील कुमार को ओलंपिक में भाग लेने से रोका नहीं जाता तो भारत को एक और मेडल हासिल होता.

सुशील ने स्वदेश वापसी के बाद देश की उम्मीदों और दुआओं के लिए आभार जताया. साथ ही उन्होंने कहा कि इससे हमेशा बेहतर करने की प्रेरणा मिलती रहती है. सुशील ने कहा कि वह रियो ओलंपिक विवाद को अब भुला चुके हैं और आगे उनका ध्यान सिर्फ देश के लिए मेडल जीतने पर केंद्रित है. सुशील के साथ 125 किलो फ्रीस्टाइल वर्ग में गोल्ड जीतने वाले सुमित मलिक भी रामदेव से मुलाकात करने पहुंचे थे.

सुशील आज सुबह ही गोल्ड कोस्ट से मेडल जीतकर दिल्ली लौटे हैं. यहां एयरपोर्ट पर उनके स्वागत के लिए काफी लोग मौजूद थे और माला पहनाकर यहां मौजूद लोगों ने उन्हें इस जीत पर बधाई दी. सुशील के अलावा टीटी खिलाड़ी मनिका बत्रा, स्टार बॉक्सर मैरी कॉम भी गोल्ड मेडल जीतक स्वदेश लौट आई हैं.

चंद सेकंड में चित किया पहलवान

सुशील ने गोल्ड के लिए खेले गए मुकाबले में साउथ अफ्रीका के जोहानेस बोथा पर एकतरफा जीत दर्ज की. उन्होंने एक मिनट के भीतर फटाफट गोल्ड पर कब्जा कर 10-0 से कामयाबी पाई. सुशील कुमार ने अपनी यह जीत हिमाचल प्रदेश में बस हादसे में मारे गए बच्चों को समर्पित की है. इस दर्दनाक हादसे में 23 बच्चों की मौत हो गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

20 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ टीम इंडिया के ओपनर धवन-रोहित ने रचा इतिहास

टीम इंडिया के ओपनर शिखर धवन (114) और