इस कॉलेज में छात्रों को सिखाया जाता है फेल होना, मिलता है फेलियर सर्टिफिकेट, जाने क्यों?

- in ज़रा-हटके

जीवन में आगे बढ़ने के लिए हर कोई कई प्रयास करता है स्कूल जाता है कॉलेज जाता है जहां वह आगे चलकर अपने भविष्य में कामयाब बन सके अपने सपनों को पा सके हर कोई अच्छी नौकरी और बेहतर भविष्य के लिए अच्छे कॉलेज का सिलेक्शन करता है और कॉलेज में एडमिशन लेने के बाद वह भविष्य में सफल होने के लिए कई प्रयास करता है.

ताकि वह पास हो कर आगे बढ़ सके और अपने सपनों को पूरा कर सके लेकिन एक यूनिवर्सिटी ऐसी जिसने यह पूरा मामला ही उलट कर रख दिया है एक यूनिवर्सिटी में छात्रों को फेल होना सिखाया जाता है और बकायदा वह फेल होने की एक उन्हें खास डिग्री भी देते हैं आज हम एक ऐसे कॉलेज की बात करेंगे जो उन्हें व्यक्तियों को फेल होने के फायदे बताते हुये उन्हें जीवन में आगे बड़ने के उपाय सिखाते है.

सिखाया जाता है फेल होना :

अमेरिका की एक यूनिवर्सिटी मैं यूनिवर्सिटी मैसाच्यूसेट के साथ कॉलेज स्टूडेंट के लिए खास प्रोग्राम चला रहे हैं जिसके अंतर्गत छात्रों को फेल होना सिखा रहे हैं इस कॉलेज में एक खास तरह का सब्जेक्ट भी होता है जिसमैं फेल होने के बाद भी आगे बढ़ने के कई नायाब तरीके बताए जाते हैं और उन्हें सिखाया जाता है कि कैसे फेल होने के बाद नाकामयाबी से बाहर निकलकर आप बेहतर इंसान केसे बन सकते हैं छात्रों को इस कोर्स के अंदर यह बताया जाता है कि फेल होने के क्या-क्या फायदे हैं और आप फेल होने के बाद भी अपने उज्जवल भविष्य को कैसे और आगे ले जा सकते हैं और अपने जीवन में किस तरह के बड सकते हैं.

तो यह रंग हे दुनिया का सबसे पुराना रंग, जानिये कौन सा है वो रंग

फेलिंग वेल कोर्स  :

स्मिथ कॉलेज ने यह कोर्स इसलिए प्रारंभ किया है क्योंकि कई बार छात्र फेल होने के बाद कोई गलत कदम उठा लेते हैं जिसके चलते उन्होंने इस कोर्स को प्रारंभ है क्या जिसको उन्होंने फेलिंग वेल कोर्स का नाम दिया है इस कोर्स के अंतर्गत जो छात्र असफल हो जाते हैं और जिन्हें नाकामयाबी मिलती है उन छात्रों को इस कोर्स के अंतर्गत नाकामयाबियों से आगे बढ़ते हुए अपने जीवन को सफल बनाने के नायाब तरीके सिखाए जाते हैं इस छात्र के अंदर इस कोर्स के अंतर्गत छात्र अपनी असफलता की कहानी बताते हैं और टीचर्स उनकी इस सिचुएशन को समझ कर उन्हें बताते हैं कि किस तरह वह इस स्थिति से निकल सकते हैं और अपने असफल जीवन को सफल बना सकते हैं उन्हें असफलता को भूलना चाहिए पुरानी गलतियों से सीख लेते हुए उन्हें सुधारना चाहिए और अपने भविष्य को उज्जवल बनाना चाहिए.

लेना पड़ता है एडमिशन :

छात्रों को इस कोर्स को सीखने के लिए दाखिला लेना पड़ता है और वह काफी आसान भी होता है छात्रों को इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए एग्जाम, स्पोर्ट्स,क्लास रिश्ते या फिर किसी भी अन्य एक्टिविटी में फेल होना पड़ता है यदि वह इन चीजों में फेल हुए हैं तो वह इस कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं और कॉलेज आपको इसका फेलियर सर्टिफिकेट भी देगा अगर आप भी अपनी असफलताओं से कुछ सीखना चाहते हैं और अपने जीवन में नाकामयाबी को भूल कर  आगे बढ़ना चाहते है तो आप भी इसमें कॉलेज में एडमिशन ले कर वहां से फेलियर सर्टिफिकेट ले सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बच्चे को खाने में दिया सलाद तो बुला ली पुलिस, उसके बाद…

अक्सर ऐसा होता है कि बच्चों को खाने