कोरोना काल में जरूरतमंदों की मदद करने के लिए सोनू सूद ने गिरवी रखी थी अपनी प्रापर्टी: रिपोर्ट

लखनऊ। कोरोना काल में जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए आगे आए  ऐक्टर सोनू सूद की दानवीरता को लेकर एक और बड़ी बात  सामने आई है। एक रिपोर्ट के मुताबिक जरूरतमदों की मदद के लिए 10 करोड़ रुपये की रकम जुटाने के लिए उन्होंने मुंबई में अपनी 8 प्रॉपर्टीज को गिरवी रख दिया था। गरीबों की मदद के लिए आगे आए सोनू सूद की सोशल मीडिया पर काफी सराहना हुई थी। एक नई रिपोर्ट के मुताबिक गरीबों की मदद के लिए उन्होंने 8 संपत्तियों को गिरवी रखा था। ये संपत्तियां मुंबई के जुहू इलाके में स्थित हैं। इनमें दो दुकानें और 6 फ्लैट शामिल हैं।

मनी कंट्रोल की रिपोर्ट के मुताबिक गिरवी रखने का यह एग्रीमेंट 15 सितंबर को साइन किया गया था और 24 नवंबर को रजिस्ट्रेशन कराया गया था। लोन लेने के लिए सोनू सूद की ओर से 5 लाख रुपये की रजिस्ट्रेशन फीस भी अदा की गई थी। यह इमारत मुंबई में इस्कॉन मंदिर के निकट एबी नायर रोड पर स्थित है। जेएलएल इंडिया के सीनियर डायरेक्टर रितेश मेहता ने कहा, ‘इस तरह की दानवीरता के बारे में कभी सुना नहीं था। इन संपत्तियों का मालिकाना हक अभिनेता और उनकी पत्नी के पास ही रहेगा। इनसे मिलने वाला किराया उन्हें लगातार मिलता रहेगा। हालांकि उन्हें संपत्ति के अगेंस्ट लिए गए 10 करोड़ रुपये के लोन की रकम चुकानी होगी और उस पर ब्याज भी अदा करना होगा।’

किसानों में उतरे पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री के तमाम कलाकार, सिंगर रुपिंदर हांडा ने तले किसानों ​के लिए ब्रेड पकौड़े

कोरोना संकट से निपटने के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान दिल्ली-एनसीआर समेत तमाम इलाकों में प्रवासी मजदूरों को अपने गांवों की ओर जाने के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ा था। इस दौरान सोनू सूद गरीबों की मदक के लिए आगे आए थे और हजारों लोगों को उन्होंने गंतव्य तक पहुंचाने का काम किया था। इसके अलावा उन्होंने बड़ी संख्या में पीपीई किट की भी व्यवस्था की थी। इसके चलते देश भर से बड़ी संख्या में लोग उन्हें मदद के लिए फोन, मेसेज करने लगे थे। सोनू सूद ने अगस्त में इस बारे में ट्वीट किया था, ‘1137 ईमेल, 19000 फेसबुक मेसेज, 4812 इंस्टाग्राम मेसेज, 6741 ट्विटर मेसेज आज हेल्प के लिए आए हैं।

सोनू सूद ने लिखा था, ‘औसतन हर दिन इतनी बड़ी संख्या में लोग मदद के लिए मेसेज करते हैं। हर किसी तक इतनी बड़ी संख्या में पहुंचना असंभव है। मैं अब भी अपनी ओर से बेहतर प्रयास कर रहा हूं। माफी चाहता हूं, यदि मैंने आपको मेसेज को मिस किया है।’ यही नहीं सोनू सूद के प्रयासों को संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की ओर से भी सराहा गया था और उन्हें स्पेशल ह्यूमनटेरियन ऐक्शन अवॉर्ड से भी नवाजा गया था।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button