चीफ जस्टिस बोले इलाहाबाद आने की सूचना पाकर पर खड़े हो गए थे रोंगटे

राजधानी लखनऊ में चल रही ज्यूडिशियल सर्विस एसोसिएशन की 41 वीं कांफ्रेंस में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रजातंत्र की सफलता न्यायपालिका की सफलता पर निर्भर है। कानून का शासन न्यायपालिका से ही संभव है।

 

चीफ जस्टिस बोले इलाहाबाद आने की सूचना पाकर पर खड़े हो गए थे रोंगटे त्वरित न्याय के लिए सरकार लगातार काम कर रही है। इस दौरान उन्होंने बीजेपी सरकार द्वारा न्याय व्यवस्था और न्यायपालिका की बेहतरी के लिए किये जा रहे कामों की चर्चा भी की। कार्यक्रम का आयोजन शनिवार को होने पर सीएम ने कहा कि शनि न्याय के देवता हैं। ऐसे कार्यक्रम शनिवार को अयोजित करके न्यायपालिका अपना समय बचाती है।

इससे पहले कार्यक्रम को संबोधित करते हुए चीफ जस्टिस भोसले ने कहा कि यूपी की निचली अदालतों में 3700 पद हैं, जिसमें 2000 से भी कम कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में न्यायपालिका की भर्ती प्रक्रिया की तुलना मुंबई और कर्नाटक की अपेक्षा धीमी है। यहां भर्ती पूरी होने में तीन साल लग जाते हैं, जबकि मुंबई और कर्नाटक में 19 महीने से लेकर एक साल में यह काम हो जाता है। 

यूपी से जुड़े अपने अनुभवों को साझा करते हुए चीफ जस्टिस ने कहा कि जब मुझे बताया गया कि मैं इलाहाबाद जा रहा हूं तो मेरे रोंगटे खड़े हो गए। दिमाग में स्टेट के बारे में सब निगेटिव बातें थीं। लेकिन जब यहां आया और देखा तो 5 निगेटिव बातें देखने को मिलीं तो 50 पॉजिटिव। प्रदेश सबसे बेहतर होने की क्षमता रखता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शासन की सराहना करते हुए बोले, कानून व्यवस्था पर अच्छा काम किया है। उसके लिए बधाई, लेकिन करप्शन पर भी सख्त होना होगा।

 
Loading...
loading...
error: Copy is not permitted !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com