तो इस कारण उत्तराखंड कांग्रेस में बेचैनी, पढ़ें पूरी खबर

देहरादून: गुरुवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का मौका, देहरादून की एतिहासिक धरोहर एफआरआइ का विशाल हरित परिसर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ तकरीबन 50 हजार लोगों के योग में शामिल होने के संयोग का माहौल भले ही राजनीतिक न हो, लेकिन कांग्रेस में बेचैनी और हलचल साफ देखी जा रही है। तो इस कारण उत्तराखंड कांग्रेस में बेचैनी, पढ़ें पूरी खबर

भाजपा के योग दिवस पर कार्यक्रम के लिए कांग्रेस समेत विपक्ष को भी न्योता देने के दावे से नाइत्तेफाकी रख रहे मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने सरकार और सत्तारूढ़ दल के इस मेगा इवेंट पर नजरें गड़ाने के साथ ही विभागों को योग दिवस पर दिए गए टारगेट और चुनावी वायदों की पोटली को लेकर सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। 

खासतौर पर प्रधानमंत्री के साथ 50 हजार से अधिक लोगों को योग साधना के लिए जुटाने की कसरत पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने भौंहें तिरछी कर ली हैं। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अजय भट्ट भले ही ये दावा कर रहे हों कि प्रधानमंत्री मोदी के साथ योग साधना के लिए कांग्रेस समेत विपक्ष को न्योता गया है, लेकिन प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने इससे साफ इन्कार किया है। 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि योग दिवस पर दून आगमन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत है, साथ ही सवालिया अंदाज में उन्होंने कहा कि योग दिवस पर स्वस्थ जीवन जीने के लिए लोगों को प्रेरित किया जाना चाहिए, लेकिन इसके लिए विभागों को कार्मिकों-लोगों को लाने के लिए टारगेट नहीं दिया जाना चाहिए। 

प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी उत्तराखंड के साथ किए गए चुनावी वायदों के साथ भी योग करते दिखें तो बेहतर होगा। प्रतीकों की सियासत और इसके लिए उपयुक्त मौके को तलाश करने में दूर-दूर तक सानी नहीं रखने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर दून में योग साधना का अवसर भले ही पूरी तरह गैर राजनीतिक हो, लेकिन कांग्रेस इसके राजनीतिक असर को लेकर सशंकित है। 

सरकार को इसके लिए विभागाध्यक्षों को बाध्य नहीं करना चाहिए। राज्य को आर्थिक पैकेज, ग्रीन बोनस, वर्ष 2013 की आपदा से उबरने के लिए केंद्र से स्वीकृत पैकेज की शेष धनराशि मिलनी चाहिए। साथ में किसानों की ऋण माफी का वायदा पूरा किया जाए। 

कांग्रेस ने पीएम से की ये मांगें 

-उत्तराखंड को विकास के लिए दिया जाए विशेष पैकेज 

-चुनावी वायदे के मुताबिक किसानों का ऋण माफ करें -ग्रीन बोनस मिले, सीएम त्रिवेंद्र भी कर रहे केंद्र से मांग 

-2013 की आपदा के पुनर्निर्माण पैकेज की शेष राशि दें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

यूपी: बहराइच में अब तक 70 से अधिक बच्चों की मौत, देखने पहुंचे डॉ. कफील खान अरेस्ट

उत्तर प्रदेश के बहराइच में संक्रमण के साथ