रहाणे के साथ खड़े हुए वॉर्न

पूर्व आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने कहा, “वह अफगानिस्तान के खिलाफ टेस्ट टीम की कप्तानी करेंग. वह अच्छे खिलाड़ी हैं और जल्दी ही टीम में वापसी करेंगे. वह जल्दी ही वनडे और टी-20 खेलते नजर आएंगे.” बता दें कि वॉर्न से पहले भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भी रहाणे के इंग्लैंड दौरे के लिए चुनी गई टीम इंडिया में नहीं शामिल किए जाने की आलोचना कर चुके हैं.

आर्चर के रहते प्ले ऑफ में जाने की उम्मीद 

रहाणे के अलावा वार्न ने अपनी टीम में शामिल वेस्टइंडीज के जोफ्रा आर्चर की भी जमकर तारीफ की है. वो शुरुआत के कुछ मैच नहीं खेल पाए थे लेकिन बाद में टीम में शामिल होने के बाद उन्होंने बेहतरीन गेंदबाजी की है और टीम को जीत के रास्ते पर वापस लौटने में मदद की है. वार्न ने आर्चर के बारे में कहा, “आर्चर क्लास खिलाड़ी हैं. उनके रहते हमारे प्लेऑफ में जाने की संभावनाएं बढ़ गई हैं. वह शुरुआत के कुछ मैचों में नहीं खेले इससे निराशा है.”

गोल्फ टूर्नामेंट में भारत के खालिन जोशी का शानदार प्रदर्शन

सचिन, द्रविड़, गांगुली से मिलता था चैलेंज

वार्न ने माना कि सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली के खिलाफ खेलना हमेशा से मुश्किल भरा रहता था. उन्होंने कहा, “इस बात में कोई शक नहीं है कि वह शानदार खिलाड़ी थे. भारत के पास उस समय कई अच्छे खिलाड़ी थे. उन लोगों के खिलाफ खेलना हमेशा से मुश्किल भरा रहता था.”