Home > अपराध > शर्मनाकः चंद घंटों की नवजात के साथ बाप ने कर दिया कुछ ऐसा, मां के उड़ गए होश

शर्मनाकः चंद घंटों की नवजात के साथ बाप ने कर दिया कुछ ऐसा, मां के उड़ गए होश

कुछ घंटे हुए थे दुनिया में आए कि अमानवीयता का शिकार हो गई नवजात। बाप ने ही उसके साथ ऐसी हरकत कर दी कि मां के होश उड़ गए।शर्मनाकः चंद घंटों की नवजात के साथ बाप ने कर दिया कुछ ऐसा, मां के उड़ गए होशमामला मोहाली का है। महंगाई के इस दौर में दो बेटों व पत्नी का खर्च नहीं उठा पा रहे एक व्यक्ति अपनी नवजात बेटी को जन्म लेने के कुछ घंटे बाद ही बेचने की कोशिश की। हालांकि सरकारी अस्पताल डॉक्टर की होशियारी से वह ऐसा करने में कामयाब नहीं हो पाया और सलाखों के पीछे पहुंच गया। जबकि बच्ची को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

आरोपी की पहचान जसपाल सिंह मूल निवासी अमृतसर हाल निवासी देसूमाजरा के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपी पर बलौंगी थाने में आईपीसी की धारा 317 व जुवेनाइल एक्ट की धारा 75 व 81 के तहत केस दर्ज किया है। एसएचओ नवीन पाल लहल ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि आरोपी से पूछताछ की जा रही है। हालांकि इमरजेंसी में लगे कैमरे काम नहीं कर रहे थे। ऐसे में पुलिस को जांच आगे बढ़ाने में काफी मुश्किल आ रही है।

जसपाल सिंह खरड़ स्थित नामी शापिंग माल में काम करता है। वह पत्नी मनजीत व दो बेटों के साथ रहता है, जबकि उसकी पत्नी ने सोमवार दोपहर में एक बच्ची को जन्म दिया। उसकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। वह हर महीने करीब दस हजार रुपये कमा लेता है। उसकी पत्नी लोगों के घरों में झाड़ू पोछा करके कुछ पैसे कमा लेती है। लेकिन तबीयत ठीक न रहने के कारण वह ज्यादा काम नहीं कर पाती है। जैसे ही उसके घर बेटी पैदा हुई।

उसके बाद आरोपी उसे प्लास्टिक बैग में लेकर घर से निकल पड़ा। इस दौरान पहले वह फेज-छह स्थित नामी प्राइवेट अस्पताल में गया, लेकिन वहां से भगा दिया गया। इसके बाद वह सरकारी अस्पताल पहुंचा। वहां पर थोड़ी देर इंतजार करने के बाद जगदीप सिंह बराड़ से मिला। उसने बताया कि उसे लड़का हुआ है, जिसे बेचने आया है। उसने डॉक्टर को प्लास्टिक बैग में रखे बच्चे को दिखाया। बच्चा उस समय उल्टी करने लगा। डॉक्टर ने उसे बातों में उलझाकर पुलिस को बुलाया।

साथ ही बच्चे का इलाज शुरू करवाया। पुलिस ने डॉक्टर की शिकायत पर आरोपी पिता के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। हालांकि पुलिस ने आरोपी की पत्नी को केस में नामजद नहीं किया है। हालांकि बच्ची को दूध पिलाने के लिए शाम में मां को बुलाया गया। पता चला है कि मां को सेक्टर-32 में भर्ती करवाया गया है। वहीं, अगर ऐसे में लड़की के पिता पर आरोप साबित होते है तो उसे सात सजा की सजा और एक लाख रुपये तक जुर्माना हो सकता है।

सांस लेने में थी दिक्कत, अब सब सामान्य
अस्पताल में तैनात बच्चों के माहिर डाक्टर तेजवीर सिंह ने बताया कि बच्ची को अस्पताल के न्यू बोर्न केयर यूनिट में रखा गया है। उन्होंने बताया कि बच्ची को सांस लेने में दिक्कत थी, जिसका इलाज किया गया है। अब बच्ची बिल्कुल ठीक है। पुलिस व अस्पताल प्रबंधन ने महिला एवं बाल कल्याण विभाग को इस संबंध में सूचित कर दिया है ताकि बच्ची को सुरक्षित जगह पर भेजा जा सके, जहां उसकी परवरिश हो सके।

Loading...

Check Also

प्लॉट आवंटन केस में हुड्डा की बढ़ीं मुश्किलें, गवर्नर ने चार्जशीट दाखिल करने की दी मंजूरी

प्लॉट आवंटन केस में हुड्डा की बढ़ीं मुश्किलें, गवर्नर ने चार्जशीट दाखिल करने की दी मंजूरी

नेशनल हेराल्ड के स्वामित्व वाली एसोसिएट जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) को प्लॉट दोबारा आवंटित करने के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com