रोहिंग्या शरणार्थियों के भारी दबाव से गुजर रहे बांग्लादेश ने अब रोहिंग्या शरणार्थियों के रहने के लिए अलग से व्यवस्था की है. बांग्लादेश की सरकार ने तय किया है कि वहां रह रहे रोहिंग्या शरणार्थियों को एक वीरान टापू पर भेजा जाएगा.

बांग्लादेश करीब 1 लाख रोहिंग्या शरणार्थियों को अपने दक्षिणी तट के एक वीरान द्वीप पर स्थानांतरित करने की प्रक्रिया की शुरुआत जून में करेगा. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी. हालांकि, इस स्थान के बारे में ऐसी चेतावनी है कि यहां की जलवायु काफी प्रतिकूल है.

18 अप्रैल को 35 साल बाद सऊदी अरब में शुरू होगा सिनेमा हॉल

अधिकारियों ने बताया कि ‘भशान चार’ में करीब 50 हजार शरणार्थियों के लिए आश्रयस्थल बनाए गए हैं. बांग्लादेश के आपदा प्रबंद सचिव शाह कमल ने संयुक्त राष्ट्र की एजेंसी को बताया कि इसके अलावा बाकी बचे आश्रयस्थल का निर्माण दो महीने के भीतर पूरा हो जाएगा.