रोहित शर्मा ने मैच जीतने के बाद किया चौकाने वाला खुलासा, ईमानदारी से कहूं तो

- in खेल

टीम इंडिया ने शनिवार को केपटाउन में खेले गए तीसरे व निर्णायक मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को 7 रनों से हराया। इसके साथ ही टीम इंडिया ने तीन टी-20 मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। टीम इंडिया ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका को 173 रन का लक्ष्य दिया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी प्रोटियाज की टीम 165 रन ही बना सकी और मैच हार गई। टीम इंडिया की तरफ से भुवनेश्वर कुमार ने सबसे ज्यादा 2 विकेट लिए।

रोहित शर्मा ने मैच जीतने के बाद किया चौकाने वाला खुलासा, ईमानदारी से कहूं तो

इससे पहले टॉस जीतकर दक्षिण अफ्रीका ने गेंदबाजी करने का फैसला लिया। टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए शिखर धवन (47) और सुरेश रैना (43) रन के शानदार पारी की बदौलत 172 रन बनाए। इसके अलावा हार्दिक पांड्या (21), एमएस धोनी (12), दिनेश कार्तिक (13), और मनीष पांडे ने 13 रन बनाए। दक्षिण अफ्रीका की तरफ से जूनियर डाला ने 35 रन देकर 3 विकेट लिए, जबकि मॉरिस ने 2 और तबरेज शम्सी ने 1 विकेट झटके।

वहीं, टीम इंडिया के लक्ष्य की पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका की शुरुआत खराब रही। सलामी बल्लेबाज रीजा हेनड्रिक्स 7 रन बनाकर आउट हुए। इसके बाद मिसर और डुमिनी की जोड़ी ने पारी को संभाला। इसके कुछ देर के बाद मिलर भी रैना के गेंदबाजी का शिकार होकर पवेलियन लौट गए। उन्होंने केवल को 24 रन बनाए। इसके अलावा कप्तान जेपी डुमिनी ने 41 गेंदों में 59 रन की शानदार पारी खेली। वहीं, टी-20 में डेब्यू किए क्रिस्टियान जोनकर ने 49 रन बनाए, जबकि फेहरान बेहरादीन ने 15 रन बनाकर नाबाद रहे। टीम इंडिया की तरफ से भुवनेश्वर कुमार ने 4 ओवर में 24 रन देकर 2 विकेट झटके। इसके अलावा बुमराह, शार्दुल ठाकुर, सुरेश रैना और हार्दिक पांड्या ने संयुक्त रूप से 1-1 विकेट लिए।

आइये जानते हैं कि मैच जीतने के बाद दोनों टीमों के कप्तानों ने क्या कहाः-

मैच जीतने के बाद के बाद टीम इंडिया के कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो हम स्कोर में 15 रन कम थे, क्योंकि जिस तरह से फर्स्ट हाफ चली गई, मैंने सोचा कि अंत में हम अपना रास्ता खो देंगे। दरअसल, ये बातें होती हैं और हम इससे सीखते हैं। मैंने सोचा कि यह एक अच्छा स्कोर था और गेंदबाजों ने हमारे लिए अच्छी गेंदबाजी की। मुझे उम्मीद है कि खेल हमें बहुत सी बातें सिखाता है। हमने कुछ योजनाओं पर चर्चा की और आज यह काम किया। हमने यह प्लान किया कि गेंद को स्टंप पर रखना है और पहले छह ओवर तक हमने इसको बरकरार रखा। इस मुकाबले में गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया। हमने पूरे सीरीज के दौरान अच्छा प्रदर्शन किया। हम किसी भी चीज में पीछे नहीं हटते और यही कारण है कि आज हम यहां विजेताओं के रूप में खड़े हैं।’

जेपी डुमिनी
मैच हारने के बाद दक्षिण अप्रीका के कप्तान ने कहा, ‘भारतीय गेंदबाजों ने पॉवरप्ले के दौरान अच्छी गेंदबाजी की और हमा उसका अंदाजा नहीं लगा सके। उन्होंने कहा कि भारतीय टीम के बैंटिंग पॉलरप्ले और हमारे बीच 30 रन का अंतर था। मैं निश्चित रूप से सोचा 170 रन का स्कोर हासिल किया जा सकता है। उनके लिए लिए धीमी गेंद और नकल बॉल काम कर गई। मुझे गर्व है कि जिस हिसाब से टीम ने मेहमत की है, खासकर जोनकर। यह आश्चर्य की बात है कि कई प्रतिभाएं सामने आ रही हैं। टीम इंडिया के लिए के यह दौरा काफी महत्वपूर्ण रहा और वह सभी बधाई के पात्र हैं।’

INDvSA: टीम इंडिया ने रचा इतिहास, द.अफ्रीका को वन-डे के बाद जीती टी-20 सीरीज

भुवनेश्वर कुमार
टी-20 सीरीज में शानदार प्रदर्शन के लिए भुवनेश्वर कुमार को मैन ऑफ द सीरीज के चुना गया। इस दौरान उन्होंने कहा , ‘हां, यह दौरा वास्तव में मेरे लिए बहुत अच्छा था और मजा आया। मैं अपनी तैयारी से बहुत खुश था। मैं सबसे पहले आईपीएल को धन्यवाद देना चाहुंगा कि उन्होंने एक भारतीय गेंदबाज को एक विचारशील गेंदबाज बनाया है। पहले छह ओवरों में बहुत अधिक रन देना महत्वपूर्ण नहीं है। मैं हमेशा इसे सरल रखने की कोशिश करता हूं। मैं टीम इंडिया के लिए बहुत अधिक विकेट लेना चाहता हूं और आज मुझे काफी मजा आया।’

सुरेश रैना
मैन ऑफ द मैच मिलने के बाद रैना ने कहा, ‘विशेष रूप से पहले ओवर में आपको अपने इरादे दिखाने की जरूरत है। विराट और रवि भाई को मैं धन्यवाद देना चाहुंगा, जिसने मुझे यह मौका दिया। ड्रेसिंग रूम का वातावरण बहुत शांत होता है। आखिरकार हमने डेढ़ महीने में जो किया है, कोई भी टीम लंबे समय तक ऐसा नहीं करती है। क्रीज पर दो बाएं बल्लेबाज मौजूद हैं और मुझे गेंदबाजी करने का मौका मिल गया, जिसपर मैने काम किया।’

You may also like

14 महीने बाद वनडे में इस खिलाड़ी की हुई वापसी, मैदान पर फिर दिखा जादू

पिछले साल जुलाई के बाद अपना पहला वनडे