री योंग हो ने वांग यी को उत्तर कोरिया आने का न्यौता दिया

चीनी विदेश मंत्रालय ने एक संक्षिप्त बयान में कहा है कि विदेश मंत्री वांग यी दो दिवसीय यात्रा पर उत्तर कोरिया जाएंगे. चीनी विदेश मंत्री का यह दौरा दो मई से शुरू होगा. उत्तर कोरिया में वांग के समकक्ष री योंग हो ने उन्हें अपने देश आने का न्यौता दिया था. चीन की राजधानी बीजिंग में राष्ट्रपति शी जिनपिंग तथा उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के बीच हुई बातचीत के बाद अप्रैल की शुरूआत में दोनो नेताओं के बीच मुलाकात हुई थी. उत्तर कोरिया की सत्ता पर काबिज होने के बाद चीनी राष्ट्रपति के साथ किम की यह पहली मुलाकात थी. किम जोंग उन ने अपने पिता किम जोंग इल से 2011 में सत्ता संभाली थी. वांग 2007 के बाद उत्तर कोरिया जाने वाले पहले चीनी विदेश मंत्री हैं. पूर्व प्रधानमंत्री वेन जियाबाओ 2009 में उत्तर कोरिया के दौरे पर गए थे.

पाक सिखों से हाफिज सईद ने मांगा समर्थन

नार्थ कोरिया पर यूएन के प्रतिबन्ध का चीन ने किया था समर्थन

उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार कार्यक्रम को लेकर संयुक्त राष्ट्र के श्रृंखलाबद्ध प्रतिबंध को चीन ने समर्थन दिया था. दोनों कोरियाई देशों के बीच हाल में हुई शिखर वार्ता के बाद बदली हुई परिस्थिति में चीन इस कूटनीतिक लहर में अब हाशिए पर नहीं जाना चाहता है. किम के अब आने वाले हफ्तों में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलने की संभावना है . हालांकि, इस बैठक का समय और स्थान निर्धारित होना अभी बाकी है. उत्तर कोरियाई नेता ने शी को भी अपने देश आने का न्यौता दिया है लेकिन इसके लिए अभी तारीख का निर्धारण नहीं हुआ है.