राहुल गाँधी सिंधिया के इस्तीफे पर बोलने से किया इन्कार, आज थामेंगे bjp का साथ

ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद मध्य प्रदेश में राजनीतिक उठापटक और तेजी हो गया है। सिंधिया आज दोपहर 12.30 बजे भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं। वहीं, मंत्री और विधायकों के इस्तीफे के बाद कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों को टूट का डर सता रहा है। देर रात भाजपा के 106 विधायकों को भोपाल से दिल्ली ले जाया गया। उधर तोड़-फोड़ की आशंका के चलते कांग्रेस भी अपने विधायकों को जयपुर भेजने की तैयारी कर रही है।

राहुल गांधी ने नहीं दिया जवाब

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया पर पार्टी छोड़ने को लेकर पूछे गए सवाल का जवाब देने से इनकार कर दिया।

फ्लोर टेस्ट में बहुमत करेंगे साबित 

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्चन बोले कांग्रेस सुरक्षित और मजबूत स्थिति में है। हर कोई मुख्यमंत्री कमलनाथ के संपर्क में है, जल्द ही सबकुछ ठीक होगा। हम विधानसभा में होने वाले फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित करेंगे और 2023 तक सरकार भी चलाएंगे।

इसे भी पढ़ें: अंधव‍िश्वास ने ली दो लोगों की जान, जाने खूनी संघर्ष का पूरा मामला

विधायकों को गुमराह किया जा रहा

कांग्रेस नेता शोभा ओझा ने कहा कि हम सदन के पटल पर बहुमत साबित करेंगे। कांग्रेस के सभी विधायक जो बेंगलुरु में हैं, उन्हें गुमराह किया जा रहा है। वे हमारे संपर्क में हैं। यहां तक कि भाजपा के विधायक भी हमारे संपर्क में हैं।

भोपाल में भाजपा पार्टी ऑफिस के बाहर से बसों के द्वारा विधायकों को एयरपोर्ट भेजा गया। वहां से सभी को मंगलवार देर रात गुरुग्राम के होटल आईटीसी ग्रैंड भारत में ठहराया गया है। कांग्रेस भी अपने विधायकों को राजस्थान ले जाने की तैयारी में है। बता दें कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार हरियाणा में सत्ता में है, जबकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार राजस्थान में शासन कर रही है।

इससे पहले विधायकों को यह नहीं बताया गया कि उन्हें कहां ले जाया जाएगा। मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि हम होली खेलने जा रहे हैं। हम हवाईअड्डे पर बसों से जा रहे हैं। पार्टी नेताओं के निर्देशों के बाद हम हवाईअड्डे से किसी स्थान के लिए जाएंगे।

इस बीच, कमलनाथ अपनी सरकार को बचाने के की कोशिशों में लग गए है। कांग्रेस ने अपने दो नेताओं सज्जन सिंह वर्मा और गोविंद सिंह को बेंगलुरू में मौजूद बागी विधायकों को मनाने के लिए भेजा है। वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के बाद मंगलवार को 22 विधायकों ने भी प्रटी से इस्तीफा दे दिया था। इस्तीफा देने वाले विधायकों में छह मंत्री भी शामिल हैं।

कमलनाथ का दावा

वहीं, मध्य प्रदेश में जारी सियासी ड्रामे के बीच सीएम कमलनाथ ने दावा किया कि उनके पास बहुमत है। कमलनाथ ने मंगलवार शाम कहा, ‘घबराने की जरूरत नहीं है, हम बहुमत साबित करेंगे। हमारी सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी। जिन्हें इन लोगों ने कैद करके रखा है, वे मेरे संपर्क में हैं।’

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button