पंजाब AAP में नहीं खत्म हो रहा है बवाल, सिसोदिया ने किया फैसला पलटने से इन्कार

चंडीगढ़/नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी में चल रहा विवाद थम नहीं रहा है और पार्टी पंजाब में दो फाड़ हो गई है। अभी हाल ही में नेता प्रतिपक्ष के पद से हटाए गए सुखपाल सिंह खैहरा ने पार्टी में हाईकमान के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली तो आप के राष्ट्रीय कन्वीनर अरविंद केजरीवाल ने आनन-फानन में पंजाब के सभी 20 आप विधायकों को रविवार को ही दिल्ली तलब कर लिया। हालांकि पहले केजरीवाल ने यह बैठक सोमवार को बुला रखी थी।पंजाब AAP में नहीं खत्म हो रहा है बवाल, सिसोदिया ने किया फैसला पलटने से इन्कार

गत देर सायं पार्टी के पंजाब प्रभारी मनीष सिसोदिया के घर पर हुई बैठक जिसमें खैहरा व उनके समर्थक आठ विधायक भी शामिल थे ने केजरीवाल की मौजूदगी में सिसोदिया पर अपना फैसला पलटने का दबाव बनाया। लेकिन, सिसोदिया ने इससे साफ इन्कार कर दिया। इसके बाद खैहरा समर्थक विधायक भी भड़क गए और दो अगस्त को बठिंडा में रखी कन्वेंशन करवाने पर अड़ गए। बैठक में नवनियुक्त नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा मौजूद नहीं थे।

खैहरा ने रविवार को बरनाला में प्रेस कांफ्रेंस कर आरोप लगाया कि दिल्ली के नेता पंजाब के विधायकों को धमका रहे हैं कि खैहरा का साथ नहीं छोड़ा तो अगली बार टिकट नहीं मिलेगी। उनके इस आरोप के बाद पार्टी सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल ने खैहरा सहित पंजाब के सभी 20 विधायकों को रविवार को ही दिल्ली तलब कर लिया।

पहले कहा दिल्ली नहीं जाएंगे, फिर अचानक चले गए

पहले विधायकों को सोमवार को बुलाया गया था और खैहरा ने कहा था कि वे दिल्ली नहीं जाएंगे, लेकिन शाम को वह आठ विधायकों को अंबाला में इकट्ठा कर दिल्ली रवाना हो गए। आज यदि केजरीवाल के साथ बैठक में गतिरोध दूर नहीं हुआ और कन्वेंशन में खैहरा भीड़ जुटा लेते हैं तो पंजाब की सियासत में नए सिरे से उनका सियासी भविष्य तय होगा। अगर भीड़ नहीं जुटी तो उनका हाल भी सुच्चा सिंह छोटेपुर और पार्टी छोड़ने वाले अन्य नेताओं जैसा होना तय है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से मोर्चा लेने के बाद कांग्रेस छोड़कर आम आदमी पार्टी में शामिल हुए खैहरा के लिए कैप्टन के रहते कांग्रेस के दरवाजे खुल पाना मुश्किल है।

खैहरा बोले अब दोबारा नेता प्रतिपक्ष पद नहीं लेंगे

खैहरा ने कहा कि अब वह घोषणा करते हैं कि फिर से नेता प्रतिपक्ष का पद नहीं लेंगे। खैहरा ने सभी विधायकों व सांसद भगवंत मान से अपील की कि वे सभी दो अगस्त को बठिंडा में रखी कन्वेंशन में शामिल हों और पार्टी के लिए एकजुट होकर काम करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तर प्रदेश सरकार चीनी मिलों को दिलवाएगी 4,000 करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की चीनी मिलों