PNB Scam: तेलंगाना के व्यापारियों को पहले से थी मेहुल के घोटाले की भनक

मेहुल चोकसी द्वारा किए जा रहे घोटाले का पता तेलंगाना के व्यापारियों को काफी पहले से पता था। हैदराबाद के स्पेशल इकोनॉमिक जोन (सेज) में तराशे गए हीरों की कीमत चोकसी चार से पांच गुना बढ़ा देता था ताकि बैलेंस शीट में हेर-फेर की जा सके। व्यापारियों का कहना है कि यह बात किसी से छिपी नहीं थी।
PNB Scam: तेलंगाना के व्यापारियों को पहले से थी मेहुल के घोटाले की भनक 
तेलंगाना एसईजेड के हीरे चोकसी विदेशों में अपनी ही कंपनियों को निर्यात करता था। बैंक उसे कच्चा माल खरीदने, बनाने और निर्यात करने के लिए भी लोन देते थे। सूत्रों ने बताया कि जो व्यापारी करोड़ों के हीरों में डील करते हैं उन्हें चोकसी के घोटाले के बारे में पता था। जो व्यापारी चोकसी के साथ पंजागुट्टा, हैदरगुडा और बंजारा हिल्स की रोड नंबर-36 में खुले स्टोर के जरिए बिजनेस में आए थे, वह सभी उसकी वजह से पीड़ित बन गए। इस वजह से उनका बिजनेस घाटे में चला गया।

प्री-शिपमेंट से होता था घोटालाः प्री-शिपमेंट क्रेडिट लोन कच्चे माल को खरीदने और उसे बनाने के लिए दिया जाता है। वहीं पोस्ट-शिपमेंट क्रेडिट उत्पाद को निर्यात करने के लिए दिया जाता है। जिसकी शर्त होती है कि खरीदने वाले 90 दिन की समय-सीमा के अंदर रकम चुका देगा। दोनों ही क्रेडिट मामले में दूसरे पारंपरिक ज्वैलर्स से ज्यादा पैसा चोकसी को मिल जाता था। वह अपने हीरे के दाम बढ़ाकर बड़ी राशि बैंक से लोन के तौर पर लेता था। इस तरह से मेहुल ने बैंकों को लंबा-चौड़ा चूना लगाया।

loading...

You may also like

अब केरल के IPS अधिकारी ने स्वीकार किया PM मोदी का फिटनेस चैलेंज, किया धन्यवाद

त्रिशूर के पुलिस कमिश्नर यतीश चंद्र ने प्रधानमंत्री के