इस उम्र के लोगों को कोरोना वायरस होने का खतरा सबसे ज्यादा, जरुर पढ़े ले ये खास खबर..

चीन में कोरोना (COVID-19) से अब तक 2943 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि करीब 79 हजार से ज्यादा लोग अब भी कोरोना से संक्रमित हैं. चीन के बाहर ईरान और इटली में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है. ईरान में 978 लोग कोरोना की चपेट में हैं. ईरान में 66 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है, जबकि इटली में भी कोरोना से 52 लोग मर चुके हैं. इस बीच एक स्टडी में यह बात सामने आई है कि 80 साल से अधिक उम्र वाले लोगों को कोरोना से सबसे ज्यादा खतरा है.

दुनिया के 60 से ज्यादा देशों में कोरोना का कहर जारी है. दुनियाभर में अब तक करीब 3100 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है, जबकि 90,000 लोग कोरोना से संक्रमित हैं. भारत में कोरोना के दो पॉजिटिव केस सामने आए हैं. जबकि अमेरिका में कोरोना से अबतक 6 लोगों की मौत हो चुकी है. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक एक स्टडी में इस बात का खुलासा हुआ है कि कोरोना संक्रमण का सबसे ज्यादा खतरा 80 साल से अधिक उम्र के व्यक्तियों में सबसे ज्यादा है.

कोरोना वायरस को लेकर तानाशाह किम जोंग ने दी धमकी, कहा-अगर देश में आया तो…

80 साल से अधिक उम्र के लोगों को खतरा

चीन में कोरोना की दस्तक के बाद कोरोना पर अबतक की सबसे बड़ी स्टडी रिपोर्ट प्रकाशित की गई है. इस स्टडी में कोरोना के 44,000 केस को शामिल किया गया था. इस स्टडी की रिपोर्ट चीन के जरनल Epidemiology में प्रकाशित की गई है. रिपोर्ट के मुताबिक 11 फरवरी तक 44,672 कन्फर्म केस में से 1,023 लोगों की मौत हो गई, जो 2.3 फीसदी है. चीन में क्लीनिक वालों से लिए गए आंकड़ों के मुताबिक 80 साल से अधिक उम्र वाले लोगों की ज्यादा मौत हुई है, जो कुल संक्रमितों का 15 फीसदी है.

किस बीमारी के मरीजों की कोरोना से हुई मौत?

रिपोर्ट के मुताबिक रिटार्यड लोगों की मौत की संख्या करीब 5 फीसदी है. हृदय रोग के पीड़ितों में कोरोना संक्रमण के कारण सबसे ज्यादा 10.5 फीसदी की मौत हुई जबकि 7.3 फीसदी डायबिटीक मरीजों की मौत हुई. इसके अलावा कोरोना के कारण श्वास की बीमारी के 6.3 फीसदी, हाइपरटेंशन के 6 फीसदी और कैंसर के 5.6 फीसदी मरीजों की मौत हुई.

जबकि कुल संक्रमितों में से 2.8 फीसदी पुरुष और 1.7 फीसदी महिलाओं की मौत हो गई. स्टडी में यह बात भी सामने आई की चीन में हुबेई प्रांत सबसे ज्यादा प्रभावित है. हुबेई प्रांत में चीन के दूसरे हिस्सों की तुलना में 7 गुना ज्यादा मौतें हुई हैं, जो कुल मौत का 74.8 फीसदी है.

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − six =

Back to top button