ओडिशा: जिस घर में रहते थे लोग, उसी घर में निकले 100 से ज्यादा कोबरा

- in राष्ट्रीय

ओडिशा के भद्रक जिले के श्यामपुर गांव में एक शख्स के उस समय होश उड़ गए, जब उसने अपने घर में 100 से ज्यादा कोबरा सांप एक साथ देख लिए. ये वाकया शुक्रवार का है. श्यामपुर गांव में रहने वाले बिजय भुयान के घर ये दो बड़े सांप और 100 से ज्यादा कोबरा के बच्चे देखे गए. हालांकि इन्हें वन विभाग की टीम ने पकड़ लिया है. लेकिन सबसे बड़ी चिंता अभी मादा कोबरा की है, जिसे पकड़ा नहीं जा सका है. उसी डर के कारण विजय का परिवार अब घर में रहने से भी डर रहा है.

ओडिशा के तटीय इलाके में मौजूद श्यामपुर गांव में बिजय भुयान का परिवार रहता है. पेशे से मजदूर बिजय ने अभी हाल में जमा पूंजी लगाकर एक घर तैयार कराया था. शुक्रवार (23 जून) को वह तब चौंक उठा जब उसने अपने ही घर में इतने सारे कोबरा और उनके बच्चे देखे. बिजय की बेटी जो कमरे में थी, उसी समय उसके पैर में एक कोबरा लिपट गया. वह चीखकर भागी. हालांकि ये उसकी खुशकिस्मती रही कि सांप ने उसे नहीं काटा.

इसके बाद बिजय ने कमरे को ध्यान से देखा. तो वह ये देखकर चौंक गया कि वहां तो सांपों का एक पूरा ढेर लगा हुआ है. बिजय ने कहा, वहां पर कोई एक यो दो सांप नहीं थे. वहां पूरा ढेर लगा हुआ था. मैं बहुत डर गया था. उसने ये भी कहा, कि उसे कभी इतने सांप होने का आभाष भी नहीं हुआ.

आपातकाल पर वित्त मंत्री ने बोला हमला, कहा- हिटलर से भी दो कदम आगे थीं इंदिरा

इसके बाद स्थानीय लोगों ने स्नेक हेल्पलाइन पर फोन किया. उनके वॉलिंटियर्स ने बड़ी मुश्किल से इन सांपों को पकड़ा. स्नेक हेल्पलाइन के मिर्जा मोहम्मद आरिफ ने कहा, हमने यहां से 100 से ज्यादा कोबरा के बच्चे पकड़े. इसके अलावा यहां से दो करैत सांप भी पकड़े गए. ये भी काफी जहरीले सांप होते हैं. इसके अलावा 21 कोबरा के अंडे भी मिले. अब हेल्पलाइन के लोग उस मादा कोबरा को खोज रहे हैं, जिसके ये सांप हैं. बिजय भुयन इस पूरे घटनाक्रम के बाद काफी तनाव में हैं. वह कहते हैं कि वह घर में कैसे रहें. कौन जाने उसमें कितने सांप और बैठे हैं.

बाढ़ से ज्यादा ओडिशा में सांप के काटने से मरते हैं लोग

स्पेशल रिलीफ कमिश्नर भूपेंद्र सेठी कहते हैं कि ओडिशा में बाढ़ जैसी घटनाओं के मुकाबले सांप के काटने से लोग ज्यादा मरते हैं. सांप के काटने को यहां पर राज्य आपदा भी घोषित किया हुआ है. पिछले तीन साल में ओडिशा में 1700 लोगों की मौत सांप के काटने से हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने देशभर के कॉलेजों में ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ का जारी किया निर्देश

देशभर के कॉलेज और विश्वविद्यालयों में 29 सितंबर