पंजाब: पाक के जासूसी नेटवर्क का भंडाफोड़, FB पर बिछा रहे हनीट्रैप

मिलिट्री इंटेलिजेंस यूनिट से मिली सूचना के आधार पर पंजाब पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन सेल ने पंजाब में सक्रिय पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI के एक जासूसी नेटवर्क का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने अमृतसर से ISI के लिए जासूसी करने वाले रवि कुमार नाम के एक शख्स को गिरफ्तार किया है.

पुलिस ने बताया कि रवि मूल रूप से मोगा के ढलेके गांव का रहने वाला है. उसे अमृतसर के छतिवाल नामक जगह से गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार किए गए पाकिस्तानी जासूस ने पुलिस पूछताछ में कुबूल किया है कि आईएसआई के एजेंटों ने उससे Facebook के जरिए संपर्क किया था.

रवि ने बताया कि वह पिछले 7 महीने से आईएसआई के लोगों के संपर्क में था और इस दौरान उसने भारतीय सेना की गतिविधियों से संबंधित गोपनीय जानकारियां आईएसआई को दीं, जिसमें बंकरों के निर्माण, सेना की गाड़ियों की आवाजाही, प्रशिक्षण से संबंधित सूचनाएं शामिल हैं.

माता-पिता चले जाते काम पर तो घुस आते थे पड़ोसी, करते थे ये काम..

PAK जासूस के पास से मिले सेना के गुप्त दस्तावेज

पंजाब पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस ने आरोपी रवि कुमार के कब्जे से भारतीय सेना से जुड़े कई गुप्त दस्तावेज बरमाद किए हैं. इन दस्तावेजों में हाथ से तैयार नक्शे, भारतीय सेना के प्रशिक्षण मैनुअल की फोटो कापियां शामिल हैं.

फिलहाल आरोपी से पूछताछ जारी है. पुलिस ने उसका मोबाइल फोन भी कब्जे में लिया है और पूछताछ पूरी होने के बाद उससे कई और सनसनीखेज खुलासे होने की उम्मीद है. उसे आज दोपहर अमृतसर की एक अदालत में पेश किया जाएगा, जहां पुलिस उसका रिमांड मांगेगी.

दुबई से भारत विरोधी गतिविधियां चला रही है ISI

आरोपी PAK जासूस रवि ने पुलिस को बताया कि आईएसआई के एजेंटों ने उसे जासूसी का काम सौंपने के लिए 20 से 24 फरवरी 2018 के बीच दुबई बुलाया था. उसकी दुबई यात्रा, ठहरने, खाने-पीने की व्यवस्था आईएसआई के लोगों ने की थी. उसे दुबई बुलाकर बताया गया था कि उसे कौन-कौन सी सूचनाएं कब और कैसे भेजनी है.

गौरतलब है कि अमृतसर से दुबई के लिए सीधी फ्लाइट है जिसका दुरुपयोग सोने के स्मगलर और असामाजिक तत्व देश विरोधी गतिविधियों के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं.

खूबसूरत लड़कियों के fb अकाउंट का लेते हैं सहारा

पंजाब पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि आईएसआई और पाकिस्तान की दूसरी जासूसी संस्थाएं पंजाब में युवकों को फंसाने के लिए Facebook के फर्जी खातों का सहारा ले रही हैं. यह फेसबुक अकाउंट पाकिस्तान की खूबसूरत लड़कियों के नाम पर बनाए जाते हैं.

जासूसी के लिए आईएसआई का निशाना मुख्य रूप से बेरोजगार युवक और भारतीय सेना में कार्यरत या सेवानिवृत्त सैनिक होते हैं. उन्हें फेसबुक पर खुबसूरत लड़कियों से दोस्ती के नाम पर फांसा जाता है. बाद में उनको पैसों का लालच देकर जासूसी करने के लिए तैयार किया जाता है.

Loading...

Check Also

यूपी: खेत में ऐसे हाल में मिला चार साल की मासूम का शव, देखकर पैरों तले खिसक गई जमीन

यूपी: खेत में ऐसे हाल में मिला चार साल की मासूम का शव, देखकर पैरों तले खिसक गई जमीन

4 साल की एक मासूम बच्ची अपने घर से 4 दिन से लापता थी। एक …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com