दर्दनाक घटना: 4 माह की बच्ची से लिया, रेप के बाद कर दी हत्या!

रेप में अव्वल राज्य मध्य प्रदेश के इंदौर से 4 माह की बच्ची की रेप के बाद हत्या की दर्दनाक घटना सामने आई है. मामले में पुलिस की लापरवाही भी सामने आई है. हालांकि पुलिस ने घटना वाले दिन ही देर शाम तक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने बताया कि आरोपी और कोई नहीं बल्कि बच्ची की मां का मौसा ही है.

पुलिस ने बताया कि CCTV फुटेज से आरोपी की पहचान हुई, जिसमें वह कंधे पर बच्ची को उठाकर ले जाता हुआ दिखाई दिया. पुलिस ने बताया कि घटना इंदौर के राजबाड़ा इलाके की है. आरोपी और पीड़िता का परिवार गुब्बारे बेचने का काम करता है और रात में पूरा परिवार राजबाड़ा किले के मुख्य गेट के पास खुले में सोता है.

पुलिस ने बताया कि शुक्रवार को तड़के करीब 4.45 बजे 25 वर्षीय सुनील भील मां-बाप के बीच सो रही 4 माह की बच्ची को उठाकर पास ही में श्रीनाथ पैलेस बिल्डिंग के बेसमेंट में ले गया. वहां उसने करीब 15 मिनट तक बच्ची के साथ रेप किया, फिर पटककर बच्ची की हत्या कर दी. सीसीटीवी फुटेज में 5 बजे के करीब वह अकेले ही लौटते भी दिख रहा है.

एक दिन पहले ही बच्ची की मां से हुआ था झगड़ा

जानकारी के मुताबिक, एक दिन पहले गुरुवार की रात आरोपी का बच्ची की मां के साथ झगड़ा भी हुआ था. दरअसल आरोपी की पत्नी उसे छोड़कर चली गई है और वह बच्ची की मां से सुलह कराने के लिए कह रहा था, जिसे लेकर झगड़ा हुआ. झगड़ा देखकर वहां काफी लोग इकट्ठा हो गए थे और पुलिस ने महज कुछ डंडे मारकर आरोपी को तब वहां से भगा दिया था.

आरबीआई ने जारी किये नई गाइंडलाइन्स, बैंक अकांउट और आधार से जुड़े हैं ये नए नियम

8 घंटे बाद हुआ केस दर्ज

पुलिस की लापरवाही यहीं नहीं रुकी. शुक्रवार की सुबह जब बच्ची के परिजन बच्ची की गुमशुदगी का केस दर्ज कराने गए तो उन्हें दोपहर में आने के लिए कहा गया. आखिरकार बच्ची का शव मिलने के बाद पुलिस ने केस दर्ज किया और इस बीच परिजन 8 घंटे तक रोते-बिलखते रहे. बता दें कि घटनास्थल से पुलिस थाना महज कुछ सौ मीटर की दूरी पर है.

 

इतना ही नहीं पुलिस को जब बच्ची की लाश मिलने की सूचना मिली, उसके भी करीब डेढ़ घंटे बाद टीआई घटनास्थल पर पहुंचे. सूचना मिलने के बावजूद वरिष्ठ अधिकारियों को घटना की जानकारी न देने के लिए DIG ने सराफा थाने के SI त्रिलोकचंद बरकड़े को सस्पेंड कर दिया है.

इस तरह मिली बच्ची की लाश

श्रीनाथ बिल्डिंग एक शॉपिंग कॉम्प्लेक्स है, जिसमें ढेरों दुकानें हैं. बिल्डिंग में ही एक दुकान में काम करने वाले व्यक्ति ने जब दोपहर करीब 12 बजे बिल्डिंग में प्रवेश किया तो उसने सीढ़ियों के पास बच्ची का शव देखा. उसने अपने मालिक को फोन कर इसकी जानकारी दी, जिसके बाद दुकान मालिक ने पुलिस को सूचना दी.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रेप की पुष्टि

पुलिस ने बच्ची के शव का पोस्टमार्टम एमवाई हॉस्पिटल में करवाया. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि बच्ची के प्राइवेट पार्ट में जख्म के निशान हैं. बच्ची के सिर पर गहरा जख्म है. डॉक्टर्स का कहना है कि बच्ची को जमीन पर जोर से पटका गया है, जिससे उसकी मौत हो गई.

 
Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button