एक बार फिर पाक की तरफ झुका अमेरिका

अमेरिका का पाकिस्तान प्रेम कुछ समझ नहीं आता एक तरफ वो पाकिस्तान को विश्व स्तर पर धमकी देता है कि, वह पाक को आर्थिक मदद देना बंद कर देगा, दूसरी ओर वह अपने ही बजट से एक बड़ी रकम पाकिस्तान के लिए निकालता है. कभी पाक पर आतंकवादियों के खिलाफ कार्यवाहियां ना करने का  आरोप लगता है तो कभी उसकी कार्रवाहियों की तारीफ़ करता है. 

अभी हाल ही में FATF द्वारा पाकिस्तान को दी गई ब्लैकलिस्ट करने की चेतावनी के बाद अमेरिकी सेना का कहना है कि, अब आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान के रवैये में कुछ सकारात्मक बदलाव देखने को मिल रहा है. इसकी जानकारी अमेरिका के सेंट्रल कमांड के प्रमुख जनरल जोसेफ वोटेल ने दी है. उन्होंने कहा है कि, “अब हम लोग बहुत सकारात्मक संकेत देख रहे हैं कि, वे लोग सही दिशा में आगे बढ़ रहे हैं”.

नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार डायमंड ने अमेरिका में दी दिवालिया होने की अर्जी

उन्होंने कहा कि, पाकिस्तान की हालिया कार्यवाहियों को देखकर लगता है कि, अब वो आतंकवाद को लेकर अमेरिका की चिंताओं के प्रति संवेदनशील हो रहा है, हालाँकि पाक ने अभी तक आतंकवाद के खिलाफ कोई निर्णायक रणनीति नहीं बनाई है. गौरतलब है कि, करीब दो दिन पहले पाक के हवाले से खबर आई था, जिसमे उसने कुख्यात आतंकी हाफिज सईद के संगठन जमात-उद-दावा की संपत्ति जब्त करने की बात कही थी. अब पाकिस्तान का यह दावा कितना सच है, इस पर तो संशय है, लेकिन फ़िलहाल पाक FATF की निगरानी में जरूर बना हुआ है. 

You may also like

पाक ने की वर्ल्ड बैंक से शिकायत, कहा सिंधु जल संधि का उल्लंघन कर रहा भारत

पाकिस्तान के संयुक्त राष्ट्र मिशन के एक बयान