नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार डायमंड ने अमेरिका में दी दिवालिया होने की अर्जी

भारत में बैंक धोखाधड़ी के सबसे बड़े मामले में आरोपी नीरव मोदी की अंतरराष्ट्रीय आभूषण कारोबार कंपनी फायरस्टार डायमंड ने अमेरिका में दिवालिया घोषित किए जाने की अर्जी दी है. फायरस्टार डायमंड इंक ने न्यूयॉर्क की एक अदालत में
बैंकरप्सी नियम के चैप्टर 11 के तहत दिवालिया घोषित किए जाने की याचिका दायर की है. अदालत की सूचना के अनुसार यह मामला जज सीन एच लेन को आवंटित किया गया है.

अफगान तालिबान अमेरिका से बातचीत करने के लिए हुए तैयार

कंपनी की वेबसाइट के अनुसार उसका ​परिचालन अमेरिका, यूरोप, पश्चिम एशिया व भारत सहित कई देशों में फैला है. उसने अपनी मौजूदा स्थिति के लिए नकदी व आपूर्ति श्रृंखला में दिक्कतों को जिम्मेदार बताया है. अदालत में दाखिल दस्तावेजों के अनुसार कंपनी ने 10 करोड़ डालर की आस्तियों व कर्ज का जिक्र किया है. कंपनी के अटार्न लेसतात विंटर्स जूरेलर ने इस बारे में भेजे गए ईमेल का कोई जवाब नहीं दिया.

You may also like

चीन का कर्ज बढ़कर 2,580 अरब डॉलर हुआ

चीन का बढ़ता कर्ज अब 2,580 अरब डॉलर