मानसून के साथ आ रहा हैं कुछ ऐसा जो इन 13 राज्यों में ला सकता हैं भारी तबाही

- in राष्ट्रीय

इस साल समय से तीन दिन पहले केरल पहुंच चुका मानसून अब धीरे-धीरे पूरे भारत की तरफ बढ़ने लग गया है। मौसम विभाग का अनुमान है कि दक्षिण पश्चिम मानसून अगले 2 दिनों में महाराष्ट्र और गोवा पहुंच जाएगा।

6 से 10 जून के बीच मुंबई, गोवा, पश्चिमी घाट और कोंकण क्षेत्रों में मौसम विभाग ने भारी बारिश की आशंका जताई है। मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि 8 से 10 जून के बीच मुंबई में इतनी तेज बारिश होगी, जिससे बाढ़ जैसा खतरा पैदा हो सकता है।

इसके साथ ही मौसम विभाग ने सोमवार को 13 राज्यों में आंधी-तूफान का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के मुताबिक, मध्य प्रदेश, प. बंगाल, ओडिशा, झारखंड, बिहार, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, महाराष्ट्र के विदर्भ-कोंकण, गोवा, तमिलनाडु, तेलंगाना, अंदरूनी कर्नाटक और तटीय आंध्र प्रदेश में आंधी-तूफान के साथ बारिश हो सकती है। यूपी के रामपुर, मुरादाबाद, सहारनपुर, बिजनौर, देवरिया और बलिया समेत कुछ जिलों में आंधी-तूफान का अलर्ट है। साथ ही तेलंगाना के दक्षिणी जिलों में अगले 48 घंटे के अंदर बारिश हो सकती है। एक दो जगहों पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

बागी सांसद शरद यादव को नहीं मिलेगा वेतन भत्ता

इस बीच कर्नाटक में सोमवार को तटीय और दक्षिण के भीतरी इलाके में बारिश हुई। बेंगलुरु में अगले दो दिनों में सामान्य बारिश होने की संभावना है। आईएमडी के मुताबिक, राज्य में मानसून-पूर्व बारिश औसत से 40% ज्यादा हुई है। निजी मौसम एजेंसी स्काईमेट के सीईओ जतिन सिंह ने बताया कि इस हफ्ते 6 से 10 जून के बीच भारी बारिश का अनुमान है। 8, 9 और 10 जून को मुंबई में भारी से भारी बारिश हो सकती है। लोगों को इस दौरान घरों में रहने की सलाह दी गई है।

एजेंसी के मुताबिक, कोंकण और गोवा के ऊपर चक्रवात बना हुआ है। जो महाराष्ट्र के तटीय इलाकों की ओर बढ़ रहा है। इसके असर से महाराष्ट्र के मुंबई, ठाणे, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग और 10-11 जून को सूरत, वलसाड समेत दक्षिणी गुजरात के कुछ जिलों में भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक, 6 जून से महाराष्ट्र और गोवा में मानसून की गतिविधियां तेज हो सकती हैं। 8 जून तक यह दोनों राज्यों में पूरी तरह से फैल जाएगा। वैज्ञानिकों का मानना है कि 7 जून से केरल, तटीय कर्नाटक, कोंकण क्षेत्र, मुंबई और गोवा में भारी से भारी बारिश शुरू होगी। 10 जून तक इन इलाकों में बाढ़ का खतरा बना हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बलात्कार मामलों में अब होगी त्वरित कार्रवाई, पुलिस को मिलेगी यह विशेष किट

देश में पुलिस थानों को बलात्कार के मामलों की जांच