वहीं, एयरलाइंस ने कहा है कि डॉ. सौरभ ने मच्छरों की शिकायत की थी. कर्मचारी मामला समझ ही रहे थे कि वह दूसरे पैसेंजरों को भड़काने लगे. उन्होंने हाईजैक शब्द का इस्तेमाल किया था, जिससे उन्हें नीचे उतारना पड़ा.

यह पहली बार नहीं है जब इंडियों ने यात्रियों के साथ गलत व्यवहार किया है. पिछले साल नवंबर में इंडिगो को एक यात्री से उस समय माफी मांगनी पड़ी थी जब उसके कर्मचारी द्वारा व्हीलचेयर पर ले जाते समय यात्री गिर गया था. इससे पहले भी यात्री की शिकायत के बाद अक्टूबर में इंडिगो को स्टेटमेंट जारी कर सफाई पेश करनी पड़ी थी.