Home > राष्ट्रीय > सीएम नायडू पर अमित शाह ने साधा निशाना, दिया ये जवाब

सीएम नायडू पर अमित शाह ने साधा निशाना, दिया ये जवाब

एनडीए से अलग होने के मुद्दे पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आंध्र प्रदेश के सीएम एन चंद्रबाबू नायडू पर निशाना साधा है. शाह ने नायडू को चिट्ठी लिखकर कहा है कि ये फैसला राज्य हित में नहीं है. अमित शाह ने लिखा कि एनडीए से अलग होने का फैसला एकतरफा और दुर्भाग्यपूर्ण है. एनडीए से अलग होने का फैसला राज्य हित नहीं राजनीति से प्रेरित है. अमित शाह ने ये भी याद दिलाया कि किस तरह बीजेपी ने पिछले लोकसभा के दौरान टीडीपी का संसद में साथ दिया था.

चिट्ठी में लिखी ये बातें

अमित शाह ने लिखा कि टीडीपी को आंध्र प्रदेश के हित की चिंता नहीं है. राजनीतिक फायदे के लिए एनडीए से अलग हुई है टीडीपी. आंध्र प्रदेश हमारी सरकार के उच्च प्राथमिकता में है. माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंध्र के विकास के संबंध में कोई कसर बाकी नहीं रखी. जब से आंध्र प्रदेश के विभाजन की बात उठी थी, तभी से बीजेपी ने दोनों राज्यों की जनता के साथ खड़े रहने का आश्वासन दिया था. ये कांग्रेस के उस रुख से पूरी तरह अलग था जिसने ना सिर्फ प्रदेश के विभाजन में बदइंतजामी की, बल्कि तेलुगु लोगों के प्रति भी असंवेदनशीलता दिखाई.

1 अप्रैल से ट्रेन टिकट समेत ये चीजें हो जाएंगी सस्ती, यहां देखें लिस्ट

बीजेपी अध्यक्ष ने लिखा, आप (नायडू) याद कर सकते हैं कि किस तरह पिछले लोकसभा और राज्यसभा में आपको पास पर्याप्त प्रतिनिधित्व नहीं था, तब दोनों प्रदेश की जनता की खातिर बीजेपी ने ही एजेंडा सेट किया था कि तेलुगु लोगों को इंसाफ मिले. इसलिए जब बीजेपी की अगुवाई में एनडीए की सरकार बनी, जिसका आप भी एक अहम हिस्सा थे, तब हमने विभाजित होने के बाद इस राज्य का पूरी तरह से ध्यान रखा.

View image on Twitter 
 

नायडू ने सुनाई थी खरी-खोटी

बता दें कि टीडीपी ने आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा नहीं देने से नाराज होकर एनडीए से अलग होने का फैसला लिया था. सीएम नायडू ने कहा था कि केंद्र में रहने का कोई फायदा नहीं हुआ. हम आंध्र के फायदे के लिए एनडीए में शामिल हुए थे. हमसे जो वादा किया गया था वो पूरा नहीं किया गया. सीएम नायडू ने कहा कि बजट के बाद से ही हम ये मुद्दा उठा रहे थे लेकिन केंद्र सरकार ने हमारी नहीं सुनी. केंद्र सुनने के मूड में नहीं है. मुझे नहीं पता कि मैंने क्या गलती की है. वे ऐसी बातें क्यों कर रहे हैं. नायडू ने कहा कि सदभावना के तहत और सीनियर राजनीतिज्ञ होने के नाते मैं इस फैसले से पीएम को अवगत कराने गया था, लेकिन वह उपलब्ध नहीं थे.

बीजेपी को निशाने पर लेते हुए नायडू ने कहा कि हम बीजेपी के साथ इसलिए आए क्योंकि हम चाहते थे कि आंध्र प्रदेश के साथ इंसाफ हो. मैं 29 बार दिल्ली गया और हर बार कई लोगों से मुलाकात की. इसके बावजूद हमारे साथ न्याय नहीं किया गया. उन्होंने हमेशा आंध्र के साथ नाइंसाफी की.

Loading...

Check Also

केंद्र सरकार के साथ चल रहे टकराव के बीच RBI की अहम बैठक, महत्वपूर्ण मुद्दों पर बन सकती है सहमति

केंद्र सरकार के साथ चल रहे टकराव के बीच RBI की अहम बैठक, महत्वपूर्ण मुद्दों पर बन सकती है सहमति

बढ़ते एनपीए और छोटे उद्योगों को कर्ज देने के मुद्दे पर केंद्र सरकार के साथ …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com