नौ माह बाद अब शाह करेंगे देहरादून का दौरा, प्रदेश में शुरू हुई तैयारियाँ

देहरादून: भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह नौ माह बाद रविवार को देहरादून आ रहे हैं। इस दौरान वह अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए प्रदेश भाजपा की तैयारियों का जायजा लेंगे। साथ ही वह पिछले साल सितंबर में दून प्रवास के दौरान दिए गए लक्ष्यों को लेकर रिपोर्ट तलब कर सकते हैं। यही नहीं, वह राज्य सरकार के कामकाज का फीडबैक भी लेंगे। इस सबको देखते हुए प्रदेश भाजपा नेतृत्व ने पूरा लेखा-जोखा तैयार कर लिया है।नौ माह बाद अब शाह करेंगे देहरादून का दौरा, प्रदेश में शुरू हुई तैयारियाँ

भाजपा ने अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव की तैयारियां प्रारंभ कर दी हैं और इस कड़ी में पहले चरण में पार्टी के शीर्ष नेतृत्व का फोकस छोटे राज्यों पर है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रविवार के देहरादून दौरे में भी लोकसभा चुनाव की तैयारियों पर मुख्य फोकस रहेगा। वह लोकसभा चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक भी लेंगे। भाजपा सूत्रों के मुताबिक इस सिलसिले में राज्य की पांचों लोकसभा सीटों से संबंधित होमवर्क पूरा कर लिया गया है। इसके लिए सीटवार डेटा तैयार किया गया है। चुनाव प्रबंधन समिति की बैठक में राज्य की सभी सीटों पर पार्टी का वर्चस्व बरकरार रखने के मद्देनजर जीत का मंत्र भी शाह देंगे।

वहीं, भाजपा अध्यक्ष शाह ने पिछले वर्ष सितंबर में दून प्रवास के दौरान पार्टी संगठन को बूथ स्तर तक मजबूती के लक्ष्य सौंपे थे। प्रदेश नेतृत्व का कहना है कि सभी लक्ष्य पूर्ण कर लिए गए हैं। इस बारे में हाल में रिपोर्ट भी राष्ट्रीय नेतृत्व को सौंपी जा चुकी है। माना जा रहा कि अब भाजपा अध्यक्ष इन लक्ष्यों की रिपोर्ट के साथ कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों से फीडबैक ले सकते हैं। सूत्रों ने बताया कि इस लिहाज से भी बिंदुवार लक्ष्यों का डेटा सीट तैयार की गई, ताकि इनके बारे में पूरा ब्योरा राष्ट्रीय अध्यक्ष के समक्ष रखा जा सके।

आरएसएस से ले सकते हैं फीडबैक

भाजपा अध्यक्ष शाह देहरादून प्रवास के दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से सरकार और संगठन को लेकर फीडबैक ले सकते हैं। हालांकि, उनके आधिकारिक कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ताओं से मुलाकात अथवा बैठक का समय तय नहीं है, लेकिन माना जा रहा कि हरिद्वार से देहरादून पहुंचने 12 से एक बजे के आरक्षित समय के दौरान वह संघ के नेताओं से मिल सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तर प्रदेश सरकार चीनी मिलों को दिलवाएगी 4,000 करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की चीनी मिलों