अभी अभी : हाईकोर्ट पहुंचे नवाज और मरियम, जमानत के लिए भी दाखिल की अर्जी

लंदन स्थित एवेनफील्ड प्रॉपर्टी मामले की वजह से सलाखों के पीछे पहुंच चुके पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, उनकी बेटी मरियम ने सजा के खिलाफ याचिका दायर की है। यह याचिका एकाउंटबिलिटी कोर्ट के फैसले के खिलाफ इस्लामाबाद हाईकोर्ट में दायर की गई है। 

शरीफ के कानूनी सलाहकार और परिवार के सदस्यों ने अदियाला जेल में उनसे मुलाकात की थी और कानूनी दस्तावेजों पर हस्ताक्षर लिए। शुक्रवार को वह यह नहीं कर सके थे क्योंकि जब तक वह पाकिस्तान पहुंचे अदालत का समय खत्म हो चुका था।   

68 वर्षीय नवाज शरीफ और 44 वर्षीय उनकी बेटी मरियम को शुक्रवार को लंदन से लाहौर पहुंचने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया था। पाकिस्तान की जवाबदेही अदालत ने लंदन में चार आलीशान फ्लैटो से संबंधित मामले में गत छह जुलाई को उन्हें दोषी ठहराया था। 
          
पाकिस्तानी मीडिया की खबर के मुताबिक शरीफ, उनकी बेटी मरियम नवाज और दामाद कैप्टन एम सफदर सोमवार को इस्लामाबाद उच्च न्यायालय में अपील दायर की। पीएमएल-एन के वरिष्ठ नेता ने कहा कि शरीफ परिवार के कानूनी सलाहकार को पूरी उम्मीद है कि उच्च न्यायालय से उन्हें बेल मिल जाएगी। क्योंकि उनका मानना है कि इस मामले में आया फैसला विरोधाभासों में भरा हुआ है।

कानूनी टीम शरीफ परिवार के खिलाफ जवाबदेही अदालत के फैसले को न सिर्फ चुनौती देगी , बल्कि वह जेल मुकदमे तथा भ्रष्टाचार के दो और लंबित मामलों अल अजीजिया तथा फ्लैगशिप  को जवाबदेही अदालत के न्यायाधीश मोहम्मद बशीर के समक्ष भेजे जाने के संबंध में कानून मंत्रालय की अधिसूचना के खिलाफ दो और अपील दायर करने की भी योजना है। 
         
एवेनफील्ड भ्रष्टाचार मामले में न्यायाधीश बशीर ने छह जुलाई को शरीफ, उनकी बेटी मरियम और दामाद सफदर को आय से अधिक संपत्ति के मामले में दोषी ठहराते हुए उन्हें क्रमश: 10 साल , सात साल और एक साल कैद की सजा सुनाई थी। 

मीडिया रिपोर्टों  में कहा गया कि शरीफ की कानूनी टीम अधिवक्ता ख्वाजा हारिस के नेतृत्व में इस मामले की अपील कर रहे हैं। इसमें कहा गया कि न्यायाधीश बशीर के फैसले को निलंबित कराने के लिए आज इस्लामाबाद उच्च न्यायालय में तीन अलग-अलग आवेदन भी दायर किए हैं।

शरीफ की कानूनी टीम अल अजीजिया और फ्लैगशिप मामलों को दूसरे न्यायाधीश के समक्ष भेजने की मांग करने वाले आवेदन को एकाउंटैबिलिटी अदालत के न्यायाधीश बशीर द्वारा खारिज किए जाने के खिलाफ भी अपील दायर करेगी।
वहीं दूसरी तरफ पीएमएल-एन नेता 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव को लेकर मॉडल टाउन ऑफिस में मीटिंग करेंगे। 

नवाज को और उनके दामाद को मिली है बेटर क्लास सर्विस

पाकिस्तान में आम चुनाव को महज नौ दिन शेष रह गए हैं। तीन बार के प्रधानमंत्री रहे नवाज शरीफ जेल मे हैं और जेल प्रशासन उन्हें बेटर क्लास फैसिलिटी मुहैया कराई है। जेल विभाग के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बेटर क्लास को बी क्लास भी कहते हैं। इसके तहत कैदी को गद्दा, छोटी टेबल कुर्सी, पंखा,21 इंच का टीवी और समाचार  पत्र मुहैया कराया जा रहा है। वहीं मरियम ने यह सुविधा लेने से मना कर दिया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पाक ने की वर्ल्ड बैंक से शिकायत, कहा सिंधु जल संधि का उल्लंघन कर रहा भारत

पाकिस्तान के संयुक्त राष्ट्र मिशन के एक बयान