शरीर से राक्षस को बाहर निकालने के बहाने मां ने बॉयफ्रेंड से करवाया घिनोना काम

बेटी के शरीर से राक्षस को बाहर निकालने के बहाने मां ने : मां की ममता की हर तरफ दुहाई दी जाती है, मां न सिर्फ ममतामई होती है बल्कि एक महिला भी होती है, जिसको अपनी औलाद खासकर अगर वो बेटी है तो सबसे ज्यादा प्यारी होती है। लेकिन इन तमाम सकारात्मक बातों के बीच आज जिस घटना का हम जिक्र करने जा रहे हैं उससे सुनकर आपको भी लगेगा कि इस घटना के बाद मां शब्द की गरिमा गिरी है। लोगों ने ऐसी माताओं की जमकर आलोचना भी की है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है, अर्जेंटीना से। जिसके सुनकर आपको भी भरोसा नहीं होगा की आखिर ऐसा कैसे हो सकता है, की एक मां अपनी ही बेटी के साथ ऐसा पाप करा दे। लेकिन ये सच है। क्योंकि यहां मां ने शरीर से राक्षस निकालने के नामपर महापाप कर दिया।

शरीर से राक्षस को बाहर निकालने के बहाने मां ने बॉयफ्रेंड से करवाया घिनोना कामरेप का एक अजीबोगरीब मामला :

दरअसल अर्जेन्टीना में रेप का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। आरोप है कि एक मां ने अपने बॉयफ्रेंड से बेटी का इसलिए रेप करवाया क्योंकि उसे विश्वास था कि उसकी बेटी के अंदर राक्षस छुपा है। आरोपी मां ने आठ साल की बेटी के शरीर से राक्षस को बाहर निकालने के लिए अपने बॉयफ्रेंड को रेप करने के लिए उकसाया, और करीब आठ साल तक ये सब चलता रहा। लेकिन कुछ दिन पहले ये मामला उसवक्त सामने आया जब पीड़िता प्रेग्नेंट हो गई। मामला सामने आने के बाद पीड़िता की मां को 14 साल के लिए सजा सुनाई गई है।

‘द सन’ की रिपोर्ट के मुताबिक, दोषी महिला का नाम सेलेना बीट्रिज सोसा है। वह अर्जेंटीना के ब्यूनस आयर्स में रहती है। महिला के बॉयफ्रेंड का नाम सेरीओ एडुआर्डो गिमेनेज बताया गया है। सेरीओ ने 6 साल तक सेलेना की मदद से उसकी बेटी के साथ रेप किया। उस वक्त पीड़िता की उम्र महज 8 वर्ष थी। फिलहाल, पीड़िता की उम्र 17 वर्ष है। बताया जा रहा है कि पीड़िता के प्रेग्नेंट होने पर अबॉर्शन के लिए साउथ अमेरिका के पैराग्वे भेजा गया था।

बेटी के शरीर से राक्षस को बाहर निकालने के बहाने मां को विश्वास दिलाया :

पीड़ित लड़की ने अपनी कहानी बताते हुए कहा कि मां का बॉयफ्रेंड हमेशा नशे में रहता था, उसने मेरी मां को विश्वास दिलाया था कि मेरे अंदर एक राक्षस है। जिसके बाद मां ने भरोसा कर लिया। वो रोज मेरे साथ गलत व्यवहार करता था। जो मुझे बिल्कुल पसंद नहीं था।

Loading...
loading...
error: Copy is not permitted !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com