इंदौर में छह लाख से ज्यादा लोग कोरोना का दूसरा टीका लगवाने को लेकर बरत रहे लापरवाही

पिछले करीब डेढ साल से कोरोना संक्रमण का दंश झेल रहे इंदौरियों को यह खबर परेशान कर सकती है कि दीपावली के बाद कोविड संक्रमण एक बार फिर बढ़ सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक ठंड का मौसम इस वायरस के लिए अनुकूल माना जाता है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि इस बार कड़ाके की ठंड पड़ेगी। दशकों पुराने रिकार्ड भी टूट सकते हैं। ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि कोविड-19 वायरस भी तेजी से फैलेगा। ऐसा हुआ तो इंदौर में संक्रमितों की संख्या बढ़ जाएगी। जरूरी है कि हम कोरोना गाइडलाइन का पालन करें। बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकले और मास्क अनिवार्य रूप से लगाएं।

श्वसन तंत्र विशेषज्ञ डॉ. सलिल भार्गव के मुताबिक पिछले साल भी कुछ माह की राहत के बाद ठंड के मौसम में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी होने लगी थी। अब तक हुए शोधों में यह बात सामने आई है कि सिर्फ कोविड-19 ही नहीं बल्कि अन्य वायरस भी ठंड के मौसम में तेजी से बढ़ते हैं। ये वायरस मानव शरीर पर लगातार हमले करते रहते हैं। शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होते ही इनका असर शरीर पर नजर आने लगता है। जरूरी है कि हम रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाएं और कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करें।

जरूरी है दूसरा टीका लगवाना

विशेषज्ञों की चिंता इस बात को लेकर भी है कि इंदौर में छह लाख से ज्यादा लोग हैं जो कोरोना का दूसरा टीका लगवाने को लेकर लापरवाही बरत रहे हैं। इन लोगों ने दूसरे टीका लगवाने का समय आने के बावजूद टीका नहीं लगवाया। दूसरा टीका नहीं लगवाने से इन लोगों के भविष्य में संक्रमित होने की आशंका अधिक है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 + nine =

Back to top button