प्रचार के लिए माने मनीष सिसोदिया, शाहकोट में 25 को करेंगे रोड शो

चंडीगढ़। शाहकोट उपचुनाव में प्रचार को लेकर कई बार मनाने के बाद आखिरकार आम आदमी पार्टी के पंजाब प्रभारी मनीष सिसोदिया ने हां कर दी है। सिसोदिया 24 को पंजाब आएंगे और 25 को शाहकोट में रोड शो करके आप उम्मीदवार के लिए वोट मांगेंगे। दो सप्ताह से आम आदमी पार्टी की नई टीम की तरफ से कई बार सिसोदिया से संपर्क साधा गया था। पहले उन्होंने चुनाव प्रचार के लिए हामी नहीं भरी थी, लेकिन अब उन्होंने अपना दौरा फाइनल कर दिया है।प्रचार के लिए माने मनीष सिसोदिया, शाहकोट में 25 को करेंगे रोड शो

शाहकोट उप चुनाव को लेकर उत्साहित नहीं आप पंजाब के दिग्गज

2017 में हुए विधानसभा चुनाव में शाहकोट में आम आदमी पार्टी तीसरे नंबर पर रही थी। हालांकि जीत हार का अंतर काफी कम था। आप को 41 हजार 10 वोट मिले थे। दूसरे नंबर पर रही कांग्रेस को 42 हजार 8 वोट हासिल हुए थे। 

कई बार मनाने के बाद सिसोदिया ने भी किया दौरा फाइनल

पांच विधानसभा चुनाव जीतने वाले अकाली दल के अजीत सिंह कोहाड़ को 46 हजार 913 वोट मिले थे। कोहाड़ की मृत्यु हो जाने के बाद इस सीट पर दोबारा चुनाव करवाए जा रहे हैं। इस बार आम आदमी पार्टी के पुराने उम्मीदवार के स्थान पर नए चेहरे को मैदान से उतारा गया है। पुराने उम्मीदवार रहे डा. अमरजीत सिंह ने इस बार पार्टी का साथ छोड़ दिया है। उनके स्थान पर एनआरआइ रतन सिंह को पार्टी ने मैदान में उतारा है।

उपचुनाव को लेकर आप के दिग्गज नेताओं या विधायकों में कोई खास उत्साह नहीं दिखाई दे रहा है। साथ ही पंजाब प्रभारी बनने के बाद सिसोदिया के नेतृत्व में पार्टी पहला उपचुनाव लड़ रही है। सिसोदिया नहीं चाहते हैं कि उनकी लीडरशिप में आप को लोकसभा चुनाव से पहले झटका लगे।

समय रहते ही पंजाब के प्रधान (इस्तीफा दे चुके हैं, लेकिन स्वीकार नहीं किया गया है) भगवंत मान ने अपनी राय जाहिर कर दी थी कि इस उप चुनाव में पार्टी को भाग नहीं लेना चाहिए। इसके बाद भी सिसोदिया की नई टीम ने अपने स्तर से उन्हें मनाने में सफलता हासिल की थी कि चुनाव से दूर क्यों भागना।

यही वजह है कि अब यह चुनाव सिसोदिया के गले की हड्डी बन गया है और प्रचार के लिए उन्होंने अपनी टीम के अनुरोध पर एक दिन के लिए रोड शो करने पर सहमति दे दी है। उनका रोड शो कितना कामयाब होगा यह तो चुनाव का परिणाम आने के बाद ही स्पष्ट होगा, लेकिन इतना जरूर है कि इस चुनाव ने आप में अंदरखाते फूट भी उजागर कर दी है।

नहीं लड़ना चाहिए था चुनाव : खैहरा

मान के बाद अब सुखपाल सिंह खैहरा भी यह बोलने में कोई गुरेज नहीं करते हैं कि उप चुनाव में पार्टी को भाग नहीं लेना चाहिए था। चुनाव के नतीजों को लेकर भी खैहरा कहते हैं कि जिस प्रकार कांग्रेस धक्केशाही करके पूर्व एसएचओ को गिरफ्तार करवाया और अपने उम्मीदवार को जिताने की कोशिश में सारी सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर रही है उससे तो यही लगता है कि उप चुनाव में जिसकी लाठी उसकी भैंस वाली कहावत पंजाब में सही साबित होगी।

हम अपना काम कर रहे हैं : डा.बलबीर

पंजाब आप के कार्यकारी प्रधान डा. बलबीर सिंह कहते हैं कि वह अपनी टीम के साथ चुनाव प्रतार में डटे हैं। परिणाम कुछ भी हो, लेकिन आप बिना लड़े हथियार डालने वाली नहीं है। बलबीर कहते हैं कि सिसोदिया के दौरे को लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं में खासा उत्साह है। उनके दौरे के बाद उप चुनाव की हवा बदल जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

व्यापम घोटाले में बढ़ सकती है शिवराज की मुश्किलें, दिग्विजय ने ठोका मुकदमा

भोपाल।  मध्यप्रदेश में मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश से जुड़े