कल सीबीआई कोर्ट में सरेंडर करेंगे लालू प्रसाद

चारा घोटाले में सजायाफ्ता और फिलहाल गंभीर बीमारियों से जूझ रहे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो और पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव गुरुवार को सीबीआई कोर्ट में आत्मसमर्पण करेंगे.कल सीबीआई कोर्ट में सरेंडर करेंगे लालू प्रसाद

लालू यादव इन दिनों इलाज के लिए औपबंधिक जमानत पर एम्स और मुंबई में इलाज करवा रहे हैं. बीते 27 अगस्त को यह मियाद पूरी हो रही थी. इससे पहले लालू ने अदालत से औपबंधिक जमानत की अवधि तीन महीने और बढ़ाने की अपील की थी जिसे अदालत ने अस्वीकार करते हुए उन्हें 30 अगस्त तक सीबीआई अदालत में आत्मसमर्पण करने का आदेश दिया. गौरतलब है कि अदालत इससे पहले दो बार लालू की औपबंधिक जमानत की अवधि बढ़ा चुकी है. वैसे इस बात की पूरी संभावना है कि समर्पण के बाद लालू यादव को बिरसा मुंडा कारागार की जगह रिम्स शिफ्ट कर दिया जाए.

रिम्स प्रबंधन के सामने संकट 

बताया जाता है कि लालू यादव इन दिनों जिन गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं उनका इलाज करने वाले विशेषज्ञ डॉक्टर्स रिम्स में नहीं हैं. लालू के शुगर लेवल में खतरनाक तरीके से उतार-चढ़ाव होता है. किडनी की स्थिति भी अच्छी नहीं है.

इसके इलाज के लिए रिम्स में किडनी रोग विशेषज्ञ, मधुमेह रोग विशेषज्ञ और उदर रोग विशेषज्ञ नहीं हैं. ऐसे में लालू की तबीयत अगर बिगड़ी तो रिम्स प्रबंधन को बदनामी चिंता सता रही है. वैसे अदालत को भी इन तथ्यों की पूरी जानकारी है, जिसे देखते हुए अदालत ने रिम्स प्रबंधन के डॉक्टरों को एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट के डॉक्टरों से लगातार संपर्क में रहने का निर्देश दिया है.

लालू एम्स से जब मई महीने में डिस्चार्ज होकर रिम्स में इलाज के लिए भर्ती कराए गए तो उस समय वह करीब 15 बीमारियों से जूझ रहे थे. इन बीमारियों में टाइप टू डायबिटीज, हाइपरटेंशन, पेरिएनल एब्सेस, किडनी इंज्यूरी एंड क्रोनिक किडनी डिजीज, बाएं आंख में मोतियाबिंद, वॉल्व रिप्लेसमेंट और फैटी लीवर शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

लापता जवान की निर्ममता से हत्या, शव के साथ बर्बरता, आॅख भी निकाली

दो दिन पहले बार्डर की सफाई दौरान पाकिस्तानी