जानिए कैसे जून से वोटर आईडी में बदलाव के लिए नहीं लगाने होंगे चक्कर

- in Mainslide, राष्ट्रीय
अब मतदाताओं को अपने वोटर आईडी में हुई गलतियां या बदलाव के लिए दौड़ना नहीं पड़ेगा। वह चाहे तो घर बैठे ही यह सारे काम कर सकेंगे। चुनाव को डिजिटल बनाने के उद्देश्य से चुनाव आयोग जल्द ही एक मोबाइल एप्लीकेशन लॉन्च करेगा। जिसके माध्यम से वोटर आईडी में हुई गलती को सही कराया जा सकता है। किसी कारणवश आप एक राज्य से निकलकर दूसरे राज्य के निवासी बन जाते हैं तो आपको परेशान होने की जरूरत नही है। इसको आसानी से बदला जा सकेगा। यह मोबाइल एप जून 2018 तक लॉन्च की जाने की उम्मीद है।      

जून से वोटर आईडी में बदलाव के लिए नहीं लगाने होंगे चक्कर, जानें कैसेइस वेप आधारित एप्लीकेशन का नाम ERONeT(Electoral Rolls Service NeT) है। मुख्य चुनाव आयुक्त ओ पी रावत ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि 22 राज्य  इस एप के लिए हमसे संपर्क कर चुके हैं। जबकि गुजरात और हिमाचल प्रदेश जैसे प्रदेशों ने इस पर सहमति नहीं जताई है।

उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि इस साल जून माह तक सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश इस एप पर सहमत हो जाएंगे। तो हम इसे सभी राज्यों में लागू कर सकेंगे। 

इस एप के बारे में बात करते हुए चुनाव आयुक्त रावत ने कहा कि मतदाता आसानी से अपने कार्ड में बदलाव कर सकेंगे। मोबाइल पर OTP के जरिए यह बदलाव किए जा सकेंगे। नया पता या नाम में चेंज करने पर पुराना नाम और पता अपने आप डिलीट हो जाएगा। 

उन्होंने बताया कि करीब 7500 चुनाव अधिकारी पूरे देश में इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से जनता से जुड़े रहेंगे। इस बदलाव की जानकारी उन्हें मोबाइल पर मैसेज के माध्यम से मिल जाएगी।  

 

You may also like

लापता जवान की निर्ममता से हत्या, शव के साथ बर्बरता, आॅख भी निकाली

दो दिन पहले बार्डर की सफाई दौरान पाकिस्तानी