IPS सुरेंद्र का सुसाइड नोट बना चर्चा का विषय, बातें सुन खड़े हो जाएंगे आपके रोंगटे

कानपुर के एसपी सुरेंद्र कुमार की मौत के बाद उनके बड़े भाई नरेंद्र कुमार दास ने चुप्पी तोड़ी। नरेंद्र ने सुरेंद्र की पत्नी डॉ. रवीना सिंह पर गुस्सा निकाला। कहा, मेरे भाई की मौत के लिए उसकी पत्नी डॉ. रवीना जिम्मेदार है। रवीना, सुरेंद्र को परिवार से अलग करना चाहती थी। सुरेंद्र बहुत भावुक, संवेदनशील और परिवार को साथ लेकर चलने वाला था। बहू ने सुरेंद्र को इतना प्रताड़ित किया कि उसे जान देने के अलावा कोई और रास्ता नहीं सूझा।

वह पत्नी के व्यवहार से पूरी तरह टूट गया था तभी बिना कुछ सोचे समझे अपनी जान दे दी। नरेंद्र ने कहा कि सोमवार को सुरेंद्र के अंतिम संस्कार के बाद पुलिस को तहरीर देंगे। साथ ही सुसाइड नोट की भी जांच कराएंगे। उन्होंने कहा कि सुसाइड नोट की राइटिंग सुरेंद्र की लग रही है, लेकिन राइटिंग एक्सपर्ट से भी पत्र लिखवाया जा सकता है। इसलिए सुसाइड नोट की जांच कराना जरूरी है।

 माफ करना, मैं षड्यंत्र का शिकार हुआ
मैं जो भी कर रहा हूं, उसका जिम्मेदार मैं खुद हूं। रवीना, मैं झूठा नहीं हूं। मैंने जो रिकॉर्डिंग की थी, वह आपकी मां को ही भेजने के लिए सोचा था। बाद में लगा कि नहीं भेजना चाहिए। कुछ छिपाना होता तो मोबाइल ऐसे ही नहीं छोड़ता। मैं तनावग्रस्त था, इसलिए मुझे आत्महत्या के विचार आ रहे थे। सच यह है कि मैं तुमसे प्यार करता हूं।

मैं षड्यंत्र का शिकार हुआ हूं। तुम चाहो तो उससे (अपने एक कर्मचारी का नाम) भी पूछ सकती हो। मैंने उससे चूहे मारने के लिए सल्फास लाने को बोला है। कुछ दिन पहले ब्लेड भी लाने को कहा था। मैं जल्दबाजी में कोई कदम नहीं उठा रहा हूं। मैंने गूगल पर भी आत्महत्या के तरीके सर्च किए। आई लव यू! मेरे इस फैसले के लिए मुझे माफ करना। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा ने भी तोड़ा नाता, राहुल की एक और सियासी चूक, बीजेपी के लिए संजीवनी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस की बजाय अजीत जोगी के