क्या आप जानते हैं भारत में ट्रेन लेट होने की दिलचस्प बात, पढ़ें पूरी खबर

- in ज़रा-हटके

भारतीय रेलवे में और कुछ सुधार हो या न हो एक बात हमेशा होती रहती है. वो है ट्रेन का लेट होना. ट्रेन हमेशा लेट होती रहती है. जब तक हमारे यहाँ की ट्रेन ८-१० घंटे देरी से न चले तब तक यहाँ के मोटर मैन को सुकून नहीं मिलता. असल में हर बार जब आप भी ट्रेन से सफ़र करते होंगे तो आपको कभी भी इस बात की संतुष्टि नहीं होती है कि आप अपने घर समय पर पहुँच जाओगे. असल में सिर्फ आम ट्रेन ही देरी से नहीं चलती बल्कि राजधानी और शताब्दी तक देरी से चलती हैं.क्या आप जानते हैं भारत में ट्रेन लेट होने की दिलचस्प बात, पढ़ें पूरी खबर

आखिर ये ट्रेन देरी से चलती ही क्यों हैं. जब देखो तब ये देरी से ही चलती हैं. कभी समय से पहले नहीं पहुँचती. असल में अगर ट्रेन जल्दी पहुँच जाती है तो मोटर मैन को उसके लिए डांट पड़ती है. बहुत जल्दी पहुँचने का मतलब है कि ये ट्रेन समय से पहले इसलिए आयी क्योंकि ज़रूर मोटर मैन ने इसके लिए तेज़ी से गाड़ी भगाई होगी.

मोटर मैन भी ये दोष अपने ऊपर लेना नहीं चाहते इसलिए वो देरी से ही चलते हैं. वैसे ट्रेन का देरी से चलना और हमेशा लेट होना बड़ी ही आम बात है और इसके पीछे का कारण भी बहुत ही लाज़मी है. असल में भारत में जब देखो पटरियों की मरम्मत होती रहती है. जिसके कारण ट्रेन हमेशा लेट होती है.

बार बार ट्रेन के लेट होने की  बात हर कोई जानता है. असल में अगर मंत्री भी उस ट्रेन से सफ़र कर रहे हों तो उन्हें भी देरी का सामना करना पड़ता है. वो कुछ नहीं कर सकते. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने यात्रियों से सहयोग की अपील करते हुए कहा कि पटरी पर चल अपग्रेडेशन कार्य की वजह से ट्रेनें देर हो रही हैं. यह कार्य यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए किया जा रहा. उन्होंने एक ट्वीट किया, ‘‘ यात्री सुरक्षा के लिए पटरी उन्नयन का कार्य मिशन मोड में चल रहा है. इसी वजह से यात्रा में देरी हो रही है, लेकिन इसके फलस्वरूप पिछले साल से दुर्घटनाओं में अभूतपूर्व कमी आयी है.’’

तो अब आपको ये बात समझ में आयी कि आखिर क्यों भारतीय रेलवे अपने समय से देरी से चलती है. अब दोबारा ये सवाल किसी और से मत पूछिएगा. असल में देर आए दुरुस्त आए इसी लाइन पर चलती है. अब रेलवे ये सोचती है कि भले ही देर से चलें लेकिन कोई दुर्घटना न हो. ऐसे में रेलवे सही काम कर रही है. रेलवे को आपको सहयोग करना चाहिए. आखिर आपके लिए ही तो पटरी की मरम्मत हो रही है ताकि आगे से ट्रेन कभी देरी से न चले और न ही देर पहुंचे. भारतीय रेलवे को अक्सर ये सुनना पड़ता है कि वो देरी से चलती है और उसका कोई भी समय ठीक नहीं है. व्यवस्था ठीक नहीं रहती. और भी न जाने कितनी तरह की बात रेलवे को सुननी पड़ती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

चलती ट्रेन में लड़की से हुआ एकतरफा प्यार, और फिर तलाशने के लिए करना पड़ा ये काम

कहते है कि प्यार पहली नजर में ही