भारत ने हमारी योजनाएं उधार ली, इसलिए सफल हुआ: PAK मंत्री अहसान इकबाल

पाकिस्तान के योजना और विकास मंत्री अहसान इकबाल ने कहा है कि भारत ने पाकिस्तान की आर्थिक और सुधार योजनाओं को उधार लिया और उन्हें सफलतापूर्वक कार्यान्वित किया, जबकि “हमने राजनीतिक अस्थिरता के कारण बड़े पैमाने पर मौका गंवा दिया.” इकबाल ने कहा, “90 के दशक के दौरान तत्कालीन भारतीय वित्त मंत्री मनमोहन सिंह ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष सरताज अजीज से आर्थिक सुधार रणनीतियों को उधार लिया और उन्हें सफलतापूर्वक भारत में लागू किया.”भारत ने हमारी योजनाएं उधार ली, इसलिए सफल हुआ: PAK मंत्री अहसान इकबाल

एक्सप्रेस ट्रिब्यून की मंगलवार की रिपोर्ट में बताया गया कि इस्लामाबाद में पाकिस्तान नेशनल सेंटर फॉर साइबर सिक्योरिटी के उद्घाटन के अवसर पर उन्होंने यह बातें कही. इकबाल ने दावा किया कि बांग्लादेश ने भी सफलतापूर्वक उसी रणनीति का उपयोग किया था, लेकिन पाकिस्तान राजनीतिक अस्थिरता के कारण एक दशक पीछे चला गया क्योंकि पाकिस्तान अपनी योजनाओं को इस्तेमाल नहीं कर सका.

क्या है चर्च में लिखी चिट्ठी का पूरा सच, किसने साधा किसके ऊपर निशाना

उन्होंने कहा, “हमें सोचना होगा कि कितने देश हमारे पीछे थे, जो अब बहुत आगे हैं. चीन की प्रति व्यक्ति आय पाकिस्तान के मुकाबले बहुत कम थी, लेकिन अब यह बहुत अधिक है. इसी प्रकार, बांग्लादेश के विदेशी भंडार 33 अरब डॉलर तक पहुंच गया हैं जबकि हमारा 18 अरब डॉलर है. आनेवाले समय में हम देखेंगे कि दूसरे देशों ने भी हमें पीछे छोड़ दिया है.” इकबाल ने कहा कि अकेले टैंक और मिसाइल एक देश को नहीं बचा सकते, “अगर वह आर्थिक रूप से मजबूत नहीं है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पाक ने की वर्ल्ड बैंक से शिकायत, कहा सिंधु जल संधि का उल्लंघन कर रहा भारत

पाकिस्तान के संयुक्त राष्ट्र मिशन के एक बयान