अगर आपको भी चाहिए जुड़वाँ बच्चे तो प्रेग्नेंट होने के बाद करे ये छोटा सा काम, फिर देखे कमाल

छ मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एक्ट्रेस सेलिना जेटली दोबारा ट्विन्स को जन्म देने वाली हैं। सेलिना से पहले कोरियोग्राफर फरहा खान भी ट्रिपलेट्स यानी तीन बच्चों को एक साथ जन्म दे चुकी हैं। यह सवाल अक्सर उठता है कि आखिर क्यों कुछ महिलाओं को जुड़वां या तीन बच्चे एक साथ होते हैं? इस पैकेज में हम एक्सपर्ट के हवाले से इसी सवाल का जवाब देने की कोशिश कर रहे हैं।

इसे कहते हैं मल्टिपल प्रेग्नेंसी…

इंडियन फर्टिलिटी सोसायटी के चैप्टर हेड और न्योनैटोलॉजिस्ट एंड एम्ब्रायोलॉजिस्ट डॉ. रणधीर सिंहका कहना है कि एक से ज्यादा बच्चों को जन्म देने की घटना को मेडिकल टर्म में मल्टिपल प्रेग्नेंसी कहा जाता है। इसका मतलब है कि किसी महिला के गर्भ में दो या ज्यादा बच्चे हैं। ये बच्चे एक ही एग या अलग-अलग एग से हो सकते हैं।

आइडेंटिकल ट्विन्स : एक ही एग से पैदा होने वाले बच्चे आइडेंटिकल कहलाते हैं। ऐसा तब होता है जब एक एग एक स्पर्म से फर्टिलाइज होता है। इसके बाद फर्टिलाइज्ड एग दो या ज्यादा हिस्सों में बंट जाता है। इसे काफी रेयर माना जाता है। इन बच्चों का चेहरा और नेचर बिल्कुल मिलता-जुलता होता है।

जानिए क्या है बेबी पाउडर के ब्यूटी फायदे…

फ्रेटरनल ट्विन्स :अलग-अलग एग से पैदा होने वाले बच्चे फ्रेटरनल कहलाते हैं। ऐसा तब होता है जब दो या ज्यादा एग अलग-अलग स्पर्म से फर्टिलाइज होते हैं।

अगर महिला के परिवार में पहले से ही फ्रेटरनल ट्विन्स हैं तो इसकी संभावना बढ़ जाती है। अधिकांश ट्विन्स इसी तरह के होते हैं। ऐसे ट्विन्स एक जैसे भी दिख सकते हैं और अलग-अलग भी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ब्यूटी टिप्स: अब रात भर में पाएं गोरी और चमकदार त्वचा, अपनाएं ये तरीके

काला रंग किसी लड़की की खूबसूरती पर बहुत