गले में है खराश तो भूलकर भी ना करें नजरअंदाज, वरना जा सकती है आपकी जान…

COVID-19 बीमारी जिसमें फ्लू जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं, SARS-CoV-2 वायरस या नोवेल कोरोना वायरस का परिणाम है। यह वायरस एक ही परिवार से संबंध रखता है, जो आम सर्दी-ज़ुकाम से लेकर तरह-तरह की सांस से जुड़ी बीमारियों के लिए ज़िम्मेदार हैं। हालांकि, WHO की रिपोर्ट की मानें तो, नोवेल कोरोना वायरस इससे पहले इंसानों में नहीं पाया गया था।

Loading...

 

यह भी पढ़ें: आंखों को रखना है स्वस्थ तो करें इन घरेलू चीजों का सेवन

इसका मतलब ये हुआ कि गले में खराश, बुखार जैसे आम सर्दी-ज़ुकाम के लक्षण, कोरोना वायरस के भी लक्षण हैं। WHO की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इसके लक्षणों में- बुख़ार, सूखी खांसी, कमज़ोरी, सांस लेने में तकलीफ, गले में खराश, सिर दर्द, मांसपेशियों में दर्द, जोड़ों का दर्द, ठंड लगना, मतली आना, कंजेशन, डाइरिया और खांसने पर खून आना शामिल है।

डॉक्टरों का मानना है कि जब भी किसी को थकावट और सांस लेने में दिक्क़त आए या फिर खांसने पर बलग़म आए, सीना भारी लगे, तो ये सभी कोरोना वायरस के लक्षण हैं। लेकिन, आम फ्लू और यहां तक कि स्वाइन फ्लू (H1N1) के भी यही लक्षण हैं। इसका मतलब ये हुआ कि गले में खराश कोरोना वायरस के लक्षणों में से एक है।
loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *