गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने दिखाया आतंक के खात्मे का रास्ता, कहा….

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से मुलाकात कर आतंकवाद के खतरे सहित आपसी चिंता के मुद्दों पर चर्चा की। राजनाथ ने कहा कि अगर क्षेत्र के सभी देश आपस में हाथ मिला लेते हैं तो उग्रवाद और आतंकवाद को उखाड़ फेंकना संभव है। सिंह तीन दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को यहां पहुंचे। शेख हसीना के साथ मुलाकात के बाद सिंह ने ट्वीट किया, ‘आज बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ ढाका में बेहद उपयोगी बैठक हुई।

हमने आपसी हित की कई द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की।’ हसीना ने कहा कि बांग्लादेश और भारत ने बातचीत के जरिए भूमि और सीमा समझौते सहित अब तक कई सारे लंबित मुद्दों का समाधान किया है। उन्होंने कहा, ‘हम उम्मीद करते हैं कि बातचीत के जरिए ही अन्य मुद्दों को भी सुलझा लिया जाएगा।

हसीना ने दोहराया कि बांग्लादेश किसी अन्य देश के खिलाफ आतंकवादियों को अपनी धरती का इस्तेमाल नहीं करने देने के रुख पर कायम है। इस दौरान सिंह, बांग्लादेश के गृह मंत्री असदुज्जमां खान कमाल के साथ छठे भारत- बांग्लादेश गृह मंत्री स्तरीय बातचीत की सह अध्यक्षता करेंगे।

बांग्लादेश में सबसे बड़े वीजा केंद्र का उद्घाटन
ढाका। भारत ने बांग्लादेश की राजधानी में शनिवार को दुनिया के अपने सबसे बड़े वीजा केंद्र का उद्घाटन किया है। इससे आवेदकों की प्रतीक्षा अवधि में कमी आएगी।

‘बीडी न्यूज’ की रिपोर्ट के मुताबिक बांग्लादेश से सबसे अधिक लोग भारत आते हैं। पिछले साल, भारत ने करीब 14 लाख बांग्लादेशी नागरिकों को वीजा जारी किया था।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने अपने बांग्लादेशी समकक्ष असदुज्जमां खान के साथ केंद्र का उद्घाटन किया। यह नया वीजा केंद्र ढाका के जमुना फ्यूचर पार्क में 18,5000 वर्ग फुट वाणिज्यिक क्षेत्र में बना है।

इस मौके पर गृहमंत्री ने बांग्लादेशी नागरिकों को पांच वर्ष में कई बार आने के लिए पर्यटन वीजा (मल्टीपल एंट्री वीजा) प्रदान करने की घोषणा की। सिंह ने कहा कि वीजा आवेदन जमा करने के लिए मौजूदा ई-टोकन (अप्वाइंटमेंट) प्रणाली की वापसी की घोषणा भी की। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

रूस से एस-400 मिसाइल की खरीद पर अमेरिका नाराज, भारत पर लगाएगा प्रतिबंध!

अमेरिका के ट्रंप प्रशासन ने कहा है कि भारत का