हॉकी पर आधारित अपनी आगामी फिल्म ‘गोल्ड’ में मुख्य किरदार निभाने जा रहे बॉलीवुड सुपरस्टार अक्षय कुमार ने कहा है कि इस खेल को लोगों से अधिक लोकप्रियता और प्रोत्साहन मिलना चाहिए क्योंकि इसके साथ देश का गौरवसाली इतिहास जुड़ा है. अक्षय ने कहा, लोगों को क्रिकेट के बजाए हॉकी, कबड्डी, फुटबॉल जैसे अन्य खेलों के बारे में भी जानना चाहिए. मुझे लगता है कि दर्शकों को हॉकी के बारे में और अधिक जानना चाहिए तथा इसे प्रोत्साहित करना चाहिए.

बाॅलीवुड के खिलाड़ी के नाम से प्रसिद्ध अभिनेता ने कहा,”लोगों को पता होना चाहिए कि 1948 में क्या हुआ था. भारत के आजाद होने के बाद हमने ओलंपिक में कैसे हॉकी का पहला स्वर्ण पदक जीता था. उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि चीजें भी काफी बदल चुकी है क्योंकि सरकार काफी मदद कर रही है. इस खेल में काफी संख्या में पदक आ रहे हैं, इसलिए मैं इस उत्साह को देखकर खुश हूं.

अक्षय इस फिल्म में तपन दास नाम के बंगली शख्स की भूमिका निभा रहे हैं जिसका सपना आजाद भारत के बाद हॉकी में स्वर्ण पदक जीतना होता है. उन्होंने कहा, “मैंने अपने डायलॉग कोच के साथ मिलकर काम किया है. मैं दो साल कोलकाता में रहा हूं, जिसने मुझे वास्तव में अपने चरित्र, शरीर की भाषा की भूमिका निभाने में मदद की. मैंने बंगाली उच्चारण से बात करने की कोशिश की.

इस एक्ट्रेस के साथ वर्कआउट करने से सोनाक्षी हुई पागल, कही ये बात…

अक्षय ने कहा, “मुझे उम्मीद है कि इस फिल्म के बाद हॉकी को उसका सम्मान मिलेगा. यह एक महत्वपूर्ण खेल है जिसने आजादी के बाद देश को पहला स्वर्ण पदक दिया, इसलिए मुझे उम्मीद है कि इस फिल्म के बाद चीजें बदल जाएंगी.