रुपए की गिरावट पर सरकार की सफाई, चिंता की बात नहीं

- in राष्ट्रीय

सरकार ने अमेरिकी डालर के मुकाबले रुपए के अब तक के न्यूनतम स्तर पर पहुंचने के लिए ‘बाह्य कारकों’ को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि इसमें चिंता की कोई बात नहीं है. वहीं, कांग्रेस ने डॉलर के मुकाबले रुपए की कीमत अब तक के सबसे निचले स्तर पर चले जाने को लेकर मंगलवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि इस सरकार ने वो कर दिखाया, जो पिछले 70 साल में कभी नहीं हुआ.

आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने कहा कि आने वाले समय में इन बाहरी वजहों में सुधार आने की संभावना है. उन्होंने कहा, ”रुपए में गिरावट का कारण बाहरी कारक हैं और इस समय चिंता की कोई वजह नहीं है.” तुर्की की आर्थिक चिंता से अमेरिकी डालर के मुकाबले रुपया आज कारोबार के दौरान 70.1 के स्तर तक गिर गया.

आनंद राठी शेयर्स एंड स्टाक ब्रोकर्स में शोध विश्लेषक आर मारू ने कहा कि आयातकों की अधिक मांग से रुपए की विनिमय दर में गिरावट आई. उन्होंने कहा, ” तुर्की संकट को लेकर अनिश्चितता और डॉलर सूचकांक में तेजी को देखते हुए आयातक आक्रमक तरीके से डालर लिवाली कर रहे हैं. दूसरी तरफ आरबीआई की तरफ से आक्रमक हस्तक्षेप नहीं होने से भी रुपया नीचे आया.

तो इसलिए यहाँ 10 अगस्‍त को ही मनाया गया स्‍वतंत्रता दिवस, जाने क्‍यों…

” देश के इतिहास में पहली बार 1 डॉलर = ₹69.93

आज फ़िर दोहराने योग्य-
गिरते रुपए पर मोदी जी की अमूल्य वाणी

“..जिस प्रकार से रूपया गिरता जा रहा है
विश्व व्यापार में भारत टिक नहीं पाएगा

..यह सिर्फ़ आर्थिक कारणों से नहीं हुआ,ये आपकी जो भ्रष्ट राजनीति है..उसके कारण हुआ है”.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता तिवारी ने काव्यात्मक अंदाज में तंज कसते हुए कहा, ‘लुढ़कती अर्थव्यवस्था, लुटता ईमान, गिरता रुपया, बोलिये मोदी जी, अब कौन गिरा रहा है, देश का मान? बता दे कि रुपया आज अब तक के सबसे निचले स्‍तर पहुंच गया. भारी गिरावट के साथ अमेरिकी डॉलर मुकाबले रुपए की कीमत 70 रुपए पहुंच गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

ऐसे भारत से भागा था विजय माल्या: CBI ने किया खुलासा..

  सूत्रों ने कहा कि पहले सर्कुलर में