विराट एंड कंपनी की नजर अब टेस्ट और वनडे की तरह T20 क्रिकेट में भी बादशाहत हासिल करने पर है. T20 में बादशाहत का ताज फिलहाल पाकिस्तान के सिर पर है. लेकिन, साउथ अफ्रीका के बाद टीम इंडिया के कदम ज्यों ही श्रीलंका की जमीन पर पड़ेंगे वो पाकिस्तान से उसका ताज छिन लेगा.

‘क्लीन स्वीप’ ले जाएगी बादशाहत के करीब

विराट की कप्तानी में भारतीय टीम टेस्ट की बेस्ट टीम बनकर साउथ अफ्रीका पहुंची थी. साउथ अफ्रीका में वनडे सीरीज जीतकर इतिहास रचते हुए उसने वनडे की बादशाहत का ताज पहना. अब उसके पास मौका है साउथ अफ्रीका में T20 सीरीज में क्लीन स्वीप करते हुए फटाफट क्रिकेट में भी बादशाहत के एक कदम और करीब पहुंचने का.

ऐसे मिलेगी बादशाहत

आईसीसी की T20 रैंकिंग में विराट एंड कंपनी इस वक्त तीसरे नंबर पर है. जबकि पाकिस्तान नंबर वन पर कायम है और ऑस्ट्रेलिया नंबर दो. ऐसे में अगर भारतीय टीम साउथ अफ्रीका के खिलाफ अगले दोनों T20 मुकाबले जीतकर सीरीज में क्लीन करता है तो वो नंबर 2 पर पहुंच जाएगा. लेकिन, ये तभी होगा जब ट्राएंगुलर सीरीज के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया न्यूजीलैंड से हार जाएगा. अगर ट्राएंगुलर T20 सीरीज के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया न्यूजीलैंड को हरा देता है तो फिर भारत की पोजिशन नंबर 3 ही रहेगी.

सचिन के 100 शतकों के रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं कोहली: विश्वनाथ

साउथ अफ्रीका के बाद भारतीय टीम को ट्राएंगुलर T20 सीरीज खेलने के लिए श्रीलंका का दौरा करना है. इस दौरे पर टीम इंडिया पाकिस्तान को पछाड़कर T20 की नंबर वन टीम बन सकती है.

अगर भारत साउथ अफ्रीका दौरे का अंत नंबर 2 की पोजिशन के साथ खत्म करने में सफल रहता है तो श्रीलंका में खेली जाने वाली ट्राएंगुलर सीरीज के पहले 3 मैचों में जीत उसे T20 का बादशाह बना देंगे. लेकिन, अगर न्यूजीलैंड के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया की जीत की वजह से भारतीय टीम साउथ अफ्रीका दौरे के बाद नंबर 3 की पोजिशन पर ही रहती है तो फिर उसे फटाफट क्रिकेट की नंबर वन टीम बनने के लिए श्रीलंका में ट्राएंगुलर T20 सीरीज के पहले 4 मैच जीतने पड़ेंगे.

साउथ अफ्रीका से श्रीलंका तक के सफर में टीम इंडिया अगर T20 में भी नंबर वन बनती है तो विराट एंड कंपनी ना सिर्फ पाकिस्तान को पीछे छोड़ देगी बल्कि तीनों फॉर्मेट में एक साथ नंबर वन बनने वाली वो क्रिकेट इतिहास की पहली टीम भी बन जाएगी.