अमेरिका के सबसे बड़े मीडिया हाउस से बेहद ख़राब हुए डोनाल्ड ट्रंप के रिश्ते

देश के राष्ट्रपति का पद संभालने के बाद से डोनाल्ड ट्रम्प के रिश्ते अमेरिका के सबसे बड़े मीडिया हाउस सीएनएन के साथ लगातार खराब हो रहे हैं और उनके बीच कड़वाहट लगातार लगातार बढ़ रही है. ट्रंप की ओर से इसके पीछे की वजह ये बताई जा रही है कि चैनल जिस तरह से व्हाइट हाउस की लगातार आलोचना कर रहा है उससे दर्शकों के बीच उसकी छवि खराब हो रही है.

व्हाइट हाउस का इस नेटवर्क के सवालों का जवाब देने से इंकार करने से लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसके एक रिपोर्टरों को रोक दिया जाना दिखाता है कि ट्रम्प और सीएनएन के बीच रिश्ते काफी कड़वे हो चुके हैं. टेक्सास यूनिवर्सिटी से इस साल रिटायर होने जा रहे पत्रकारिता के प्रोफेसर रॉबर्ट जेनसन ने कहा, ‘‘डोनाल्ड ट्रम्प वही कर रहे हैं जो कंजरवेटिव नेता लंबे समय से करते आ रहे हैं लेकिन वो इसे नई ऊंचाइयों की तरफ ले जा रहे हैं.’’

सच्चाई का खुलासा करने की सीएनएन की प्रतिबद्धता और प्रशासन में संकटों पर इसके लगातार कवरेज के कारण राष्ट्रपति की आंखों में यह किरकिरी बन गया है. इस महीने की शुरुआत में एंडरसन कूपर ने ब्लादिमिर पुतिन के साथ ट्रम्प के प्रेस कॉन्फ्रेंस को ‘संभवत: किसी अमेरिकी राष्ट्रपति का सबसे शर्मनाक प्रदर्शन करार’ दिया था. उनके सहकर्मी डॉन लेमन ने जनवरी में ट्रम्प को ‘नस्लभेदी’ करार दिया था.

आमिर खान ने इमरान खान से 5 साल पहले किये थे ये वादा, तो जा सकते है पाकिस्तान

कनेक्टिकट के क्यूनिपियाक यूनिवर्सिटी में पत्रकारिता पढ़ाने वाले एक अखबार के पूर्व संपादक पॉल जनेश्च ने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि पत्रकारिता कर लोगों का इस तरह की टिप्पणियां करना एक भूल है.’’ उन्होंने एएफपी से कहा, ‘‘अगर मैं सीएनएन चला रहा होता तो मैं समाचार से जुड़े लोगों को तथ्यों का पालन करने और ट्रम्प के बारे में अनाप-शनाप कमेंट्स करने से बचने के लिए कहता.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

China के सबसे ‘शक्तिशाली’ व्‍यक्ति की चेतावनी, ट्रेड वार से होगी सबसे ज्‍यादा बर्बादी

चीन के सबसे अमीर और शक्तिशाली व्‍यक्ति जैक मा ने