इस बड़ी वजह से ISI का जासूस बन गया रिटायर्ड हवलदार का बेटा

- in अपराध

हरियाणा के रोहतक से एक व्यक्ति को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI के लिए जासूसी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. IB से मिली जानकारी के आधार पर रोहतक पुलिस ने गौरव शर्मा नाम के एक युवक को गिरफ्तार किया है, जो सोनीपत के गन्नौर का रहने वाला है.

पुलिस ने बताया कि गौरव सेना से रिटायर्ड हवलदार का बेटा है और पिछले 4 साल से ISI को भारतीय सेना से जुड़ी गुप्त और संवेदनशील जानकारियां भेज रहा था. आरोपी गौरव ने पूछताछ के दौरान पुलिस से खुलासा किया कि वह अब तक 18 बार आर्मी में हुई रिक्रूटमेंट से जुड़ी जानकारियां भेज चुका है. पुलिस ने बताया कि गौरव ने अब तक आईएसआई को जो जानकारियां भेजी हैं, वे रोहतक और हिसार की सेना छाविनयों में हुई थीं.

महिला एजेंट के जाल में फंसा

पूछताछ के दौरान पता चला कि ISI ने इस बार भी जासूसी के जाल में फंसाने के लिए खूबसूरत महिला का सहारा लिया. पिछले मामलों की ही तरह इस बार भी आईएसआई ने खूबसूरत महिला के प्रोफाइल से सोशल मीडिया के जरिए गौरव से दोस्ती गांठी.

गौरव ने बताया कि वह PAK महिला से सोशल मीडिया पर वीडियो कॉल किया करता था और वीडियो कॉल के जरिए ही उसने भारतीय सेना से जुड़ी जानकारियां भी भेजीं. पुलिस ने बताया कि आरोपी गौरव करीब 4 साल पहले सोशल मीडिया पर एक महिला के संपर्क में आया.

महिला ने गौरव से दोस्ती गांठने के बाद वीडियो कॉलिंग शुरू कर दी और उसे हनीट्रैप में फंसा लिया. इसके बाद गौरव चार साल से लगातार पाकिस्तानी महिला को सेना में होने वाली भर्तियों की जानकारी भेजता रहता था.

इटावा: दो सगी बहनों की गोली मारकर हत्या, आस-पास पड़े मिले शव

4 दिन की रिमांड पर

रोहतक पुलिस ने गौरव को कोर्ट में पेश किया और मामले की सघन पड़ताल के लिए उसे चार दिन की हिरासत में ले लिया. रिमांड में पूछताछ के दौरान उसने कई बड़े खुलासे किए हैं. गौरव ने पुलिस को बताया है कि वह अब तक भारतीय सेना भर्ती की 18 ड्राइव्स की जानकारी आईएसआई को वीडियो कॉलिंग के जरिए दे चुका है.

इसके अलावा उसने हिसार और रोहतक छावनियों की अति संवेदनशील जानकारियां भी आईएसआई को दी हैं. इन जानकारियों में सेना की रिक्रूटमेंट ड्राइव, अधिकारियों और सेना के वाहनों की आवाजाही के अलावा कई दूसरी जानकारियां भी शामिल हैं.

आर्मी कोचिंग एकैडमी में रह रहा था

पुलिस को दी गई जानकारी के मुताबिक गौरव शर्मा नासिक, भोपाल, सिकंदराबाद में हुई आर्मी की रिक्रूटमेंट ड्राइव को वीडियो कॉलिंग के जरिए लाइव करता था. वह मंगलवार को चेन्नई जाने की फिराक में था, जहां पर सेना की भर्तियां हो रही हैं.

गौरव शर्मा पिछले तीन महीने से रोहतक की एक एकैडमी के हॉस्टल में रह रहा था, जो युवकों को सेना में भर्ती करने की कोचिंग देती है. उसने पुलिस को बताया कि वह पिछले चार सालों के दौरान कई भर्तियों की परीक्षा में शामिल हो चुका है, लेकिन फिजिकल टेस्ट में फेल हो जाने के कारण सेना में भर्ती नहीं हो पाया. पुलिस सूत्रों के मुताबिक गौरव शर्मा से राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) के अधिकारी भी पूछताछ कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बेटी के पति पर आया सास का दिल, फिर उसके बच्चे की मां बनने के लिए कर डाला ये सब…

मप्र में जनसुनवाई के दौरान रिश्तों को कलंकित