इसके बाद अमित शाह ने फिर से भाषण देना शुरू किया. अमित शाह ने कहा कि मुझे राहुल गांधी को जवाब देने की जरूरत नहीं है. मैं यहां नेलमंगला की जनता को जवाब देने आया हूं. इसका अनुवाद करते हुए महिला ट्रांसलेटर भूल गई कि अमित शाह ने क्या कहा. इस बात पर अमित शाह झल्ला गए. उन्होंने फिर अपनी बात दोहराई. इसके बाद पास में खड़े व्यक्ति ने महिला से माइक ले लिया और अमित शाह की बातें ट्रांसलेट करने लगा.

फ्लिपकार्ट से विदाई के बाद सचिन बंसल का भावुक पोस्ट

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार का आज आखिरी दिन है. आज से ठीक दो दिन के बाद कर्नाटक की जनता अपनी अगली विधानसभा के लिए उम्मीदवारों का चयन करेगी. प्रदेश में 12 मई को विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे. ऐसे में सभी राजनीतिक दलों की कोशिश है कि जनता को अपने पक्ष में लुभाने के लिए जितनी जोर-आजमाईश की जा सकती है, आज ही कर ली जाए.

विधानसभा चुनाव प्रचार के क्रम में नेताओं के संख्याबल के मामले में अन्य राज्यों की तरह ही भारतीय जनता पार्टी का पलड़ा यहां भी भारी है. यही वजह है कि विधानसभा चुनाव प्रचार के अंतिम दिन भाजपा ने अपनी पार्टी के स्टार प्रचारकों की पूरी फौज उतार दी है. पार्टी के 23 शीर्ष नेता आज कर्नाटक के विभिन्न इलाकों में रोड-शो करने वाले हैं. इनमें न सिर्फ प्रदेश स्तर के नेता शामिल हैं, बल्कि कई केंद्रीय मंत्री, भाजपा शासित विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री और अन्य वरिष्ठ नेता भी रोड-शो के लिए उतरेंगे.