उत्तराखंड के किसानों ने तोड़ा बैरियर, पुलिस से हुई धक्का-मुक्की

उत्तराखंड के दिनेशपुर पहुंचे शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय को रविवार को किसानों के विरोध का सामना करना पड़ा। शिक्षा मंत्री आवास योजना सबके लिए आवास के क्रियान्वयन में दिनेशपुर को प्रथम पुरस्कार मिलने पर आयोजित अभिनंदन समारोह में शामिल होने गए थे। लेकिन वहां किसानों ने हंगामा खड़ा कर दिया।

जानकारी के अनुसार, हंगामा कर रहे किसानों को रोकने के दौरान पुलिस की किसानों के साथ धक्का-मुक्की हो गई। लेकिन किसानों का प्रदर्शन जारी रहा। किसान एक बेरिकेडिंग तोड़कर आगे बढ़ गए। इसके बाद किसानों को पुलिस ने दूसरे बैरियर पर बड़ी मुश्किल से रोका। किसानों को रोकने के लिए बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात रहा।

किसानों का कहना कि सरकार किसानों पर जबरन नया कृषि कानून बिल थोप रही है। कृषि कानून वापस करने के लिए किसान देश की सीमाओं के साथ ही सभी शहरों में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। लेकिन सरकार कृषि कानून वापस करने पर कोई विचार नहीं कर रही है।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link

बता दें कि किसान आंदोलन में उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जिले से भी बड़ी संख्या में किसान गए हुए हैं। इसके चलते किसान उत्तराखंड में कृषि कानूनों का समर्थन करने वाले नेताओं और मंत्रियों का विरोध कर रहे हैं। किसानों का कहना है कि उन्हें गांव में नहीं घुसने दिया जाएगा। इसके चलते किसानों ने मंत्री अरविंद पांडेय का भी विरोध किया।

वहीं, पांच जनवरी को भी बाजपुर क्षेत्र के ग्राम सभा बांसखेड़ा के उपग्राम विजय रम्पुरा स्थित जनजाति प्राथमिक विद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे मंत्री अरविंद पांडेय का किसानों ने जबरदस्त विरोध किया था।

हंगामा बढ़ने पर पुलिस अधिकारियों ने शिक्षा मंत्री को दूसरे रास्ते से कार्यक्रम स्थल तक पहुंचाया था। यहां तक कि किसान कार्यक्रम स्थल तक पहुंच गए थे। किसानों का कहना है कि दिल्ली जाकर काले कानूनों का समर्थन करने वाला मंत्री और कोई भी नेता किसानों का हितैषी नहीं हो सकता।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button