आज भी अपने गांव में ही प्रवास पर हैं CM योगी, भतीजे के मुंडन संस्कार में तिलक व हल्दी लगा कर दिया आशीष

Yogi Adityanath in Uttarakhand : उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के उत्‍तराखंड दौरे का आज दूसरा दिन है। आज बुधवार को भी वह अपने गांव में ही प्रवास पर ही हैं।गांव में उन्‍होंने स्थानीय नागरिकों से मुलाकात की।

बच्चों में फोटो खिंचवाने की होड़

पंचूर गांव योगी आदित्यनाथ ने गांव की पगडंडियों का भ्रमण किया। इस दौरान वह ग्रामीणों से भी मिले। पुराने लोग को उन्होंने नाम लेकर पुकारा। बच्चों में योगी आदित्यनाथ के साथ फोटो खिंचवाने की होड़ लगी रही। उन्होंने किसी को भी निराश नहीं किया। गांव भ्रमण के दौरान वह कई जगह रुके। उन्होंने अपनी बचपन की यादों को ताजा किया। सभी से उन्होंने मुस्कुराकर मुलाकात की और अभिवादन स्वीकार किया।

भतीजे को तिलक व हल्दी लगा कर दिया आशीष

भ्रमण के बाद योगी आदित्यनाथ अपने घर में भतीजे के मुंडन संस्कार में सम्मिलित हुए। मंगलवार रात को घर में सत्यनारायण की कथा तथा केस नूतन का संस्कार संपन्न हुआ। जबकि बुधवार को सुबह बान व मंगल स्नान की रस्म में योगी आदित्यनाथ शामिल हुए। उन्होंने भतीजे अनंत को तिलक व हल्दी लगाकर आशीष दिया। इस दौरान गांव में पारंपरिक बाद्यों की धुन पर ग्रामीणों व महिलाओं ने नृत्य भी किया। योगी आदित्यनाथ में नृत्य और संगीत का बैठकर आनंद लिया।

इसके पश्चात वह योग गुरु बाबा रामदेव के पोखरी स्थित वेदा लाइफ संस्थान में पहुंचे। यहां से उनका महागढ़ मंदिर में जाने का भी कार्यक्रम है। योगी आदित्यनाथ बुधवार को भी अपने घर पर ही रुकेंगे। हालांकि अभी उनका पुख्ता कार्यक्रम जारी नहीं किया गया है।

पतंजलि के वैलनेस सेंटर पहुंचे योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को यम्केश्वर ब्लाक के पोखरी स्थित पतंजलि योगपीठ के वैलनेस सेंटर में पहुंचे। उन्होंने वैलनेस सेंटर में उपचार की आयुर्वेदिक पद्धति की जानकारी हासिल की।योगी आदित्यनाथ इन दिनों अपने गृह ब्लाक यमकेश्वर के प्रवास पर हैं। बुधवार को अपने पैतृक गांव पंचूर में पारिवारिक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद योगी आदित्यनाथ यहां से करीब 12 किलोमीटर की दूरी पर स्थित पोखरी गांव पहुंचे। पोखरी गांव में पतंजलि योगपीठ ने वेदा लाइफ वैलनेस सेंटर की स्थापना की है। वेदा लाइफ में पहुंचने पर पतंजलि योगपीठ के संस्थापक योग गुरु बाबा रामदेव व आचार्य बालकृष्ण ने योगी आदित्यनाथ का स्वागत किया। इस दौरान परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती महाराज भी मौजूद रहे। आचार्य बालकृष्ण ने योगी आदित्यनाथ को वैलनेस सेंटर में संचालित होने वाले आयुर्वेदिक उपचार तथा पंचकर्म आदि की से संबंधित जानकारी दी। इस दौरान यमकेश्वर विधायक रेनू बिष्ट भी मौजूद रही।

मंगलवार रात अपने पैतृक घर पर ही रुके योगी

बता दें कि सीएम योगी अपने तीन दिवसीय दौरे पर मंगलवार को देहरादून पहुंचे। जहां से वह अपने गृह ब्लाक यमकेश्वर के बिथ्याणी पहुंचे। यहां उन्‍होंने महायोगी गुरु गोरखनाथ राजकीय महाविद्यालय में अपने आध्यात्मिक गुरु महंत अवेद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण किया। इसके बाद वह अपने पैतृक गांव पहुंचे और मां व अन्‍य स्‍वजनों से मुलाकात की। मंगलवार रात को योगी अपने पैतृक घर पर ही रुके। हां उनके लिए एक कमरा हमेशा सुरक्षित रखा जाता है।

गुरुवार पांच मई को वह हरिद्वार में परिसंपत्तियों के बंटवारे में उत्तराखंड के हिस्से में आए अलकनंदा होटल को राज्य को समर्पित करेंगे, जबकि उत्तर प्रदेश के होटल का उद्घाटन करेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी मौजूद रहेंगे।

मां के पैर छूकर आशीष लिया

पांच साल बाद जब योगी आदित्‍यनाथ ने अपनी मां के पैर छूकर आशीष लिया। मां का ममतामयी हाथ सिर पर आया तो योगी आदित्यनाथ भावुक हो गए। योगी आदित्यनाथ आखिरी बार 11 फरवरी 2017 को अपने गांव आए थे। तब भी वह एक रात अपने पैतृक घर में प्रवास किया था। मां से बातचीत करने के बाद उन्होंने अपने भाइयों से मां के स्वास्थ्य तथा उपचार आदि की जानकारी ली।

इसके बाद करीब आधे घंटे का समय योगी आदित्यनाथ ने मां के कमरे में ही अपने भाई-बहनों और अन्य स्वजन के साथ बिताया। मंगलवार को योगी आदित्यनाथ के भाई महेंद्र सिंह बिष्ट के बेटे अनंत का जन्मदिन भी था। उन्होंने भतीजे से मुलाकात कर उसे आशीर्वाद दिया। इसके बाद योगी घर के बाहर लगे पंडाल में पहुंचे, जहां उन्होंने एक-एक कर गांव वालों से भेंट की।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya

Leave a Reply

Your email address will not be published.

3 × three =

Back to top button