गुरुग्राम: नमाज के दौरान उपद्रव करने को लेकर तनाव जैसी स्थिति, 6 गिरफ्तार

- in राज्य

दिल्ली से सटे गुरुग्राम के वजीराबाद इलाके में नमाज के दौरान उपद्रव करने को लेकर तनाव जैसी स्थिति बन गई है. पुलिस ने धार्मिक उन्माद फैलाने के आरोप में 6 संदिग्धों को गिरफ्तार भी कर लिया है. घटना बीते शुक्रवार की है, जिसका वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है.

पुलिस के मुताबिक, बीते शुक्रवार को सेक्टर 53 थाना क्षेत्र में सरस्वती कुंज के सामने मैदान में मुस्लिम समुदाय के लोग नमाज अदा कर रहे थे. तभी वहां हिंदूवादी संगठन के कुछ लोग पहुंचे और नमाज अदा करने का विरोध करने लगे. पुलिस ने बताया कि उस समय 500 के करीब लोग नमाज अदा कर रहे थे.

बाद में पुलिस सुरक्षा में उन लोगों ने पूरी नमाज अदा की. गुरुग्राम पुलिस के प्रवक्ता रविंदर कुमार ने बताया, ’20 अप्रैल को घटी घटना को देखते हुए हमने कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए गांव में पर्याप्त संख्या में पुलिसकर्मी तैनात कर दिए हैं.’

दलित ने सांसद को खाना खिलाने से किया इन्कार

उन्होंने बताया कि बीते शुक्रवार को उसी हिंदूवादी संगठन के लोगों ने मुस्लिमों को नमाज अदा करने से रोका और धार्मिक नारेबाजी भी की. इतना ही नहीं उपद्रवियों ने पूरी घटना का मोबाइल से वीडियो भी बनाया. हिंदूवादी संगठनों ने इस मामले में 6 लोगों की गिरफ्तारी के विरोध में सोमवार को विरोध प्रदर्शन करने का फैसला किया है.

हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि मुस्लिम उस जमीन पर कब्जा करने के इरादे से वहां नमाज पढ़ रहे हैं, जिसे बाद में वे किसी मस्जिद की जमीन घोषित कर देंगे. उपद्रवियों ने ‘जय श्रीराम’ जैसे धार्मिक नारे लगाए और नमाज पढ़ रहे लोगों से वहां से जाने के लिए कहा.

साथ ही उन्होंने धमकी भी दी कि अगर अगले शुक्रवार को वे दोबारा उस जगह नमाज पढ़ने आए तो उनका अंजाम बुरा होगा. गुरुग्राम शिवसेना ईकाई के अध्यक्ष गौतम सैनी का कहना है, ‘मुस्लिमों समुदाय द्वारा वहां नमाज पढ़े जाने से वजीराबाद में लोग डरे हुए हैं. उन्होंने हाल ही में वहां नमाज पढ़नी शुरू की है और उनकी मंशा ठीक नहीं है.’

सेक्टर 53 पुलिस स्टेशन में विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. पुलिस ने आरोपियों के कब्ज़े से वो मोबाइल फोन भी बरमाद कर लिया है, जिसमे इस शर्मनाक घटना को फिल्माया गया था. पुलिस ने बताया कि रोहित, हितेश व 7-8 अन्य के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने मामला दर्ज किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

बसपा ने भी तोड़ा नाता, राहुल की एक और सियासी चूक, बीजेपी के लिए संजीवनी

बसपा अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस की बजाय अजीत जोगी के